पटना : मौसम में बदलाव के बाद बुधवार को पटना समेत प्रदेश के कई हिस्सों में मेघगर्जन के साथ बारिश हुई। देर शाम झमाझम बारिश के कारण पटना के कई इलाकों में सड़कों पर जलजमाव की स्थिति बनी रही। बारिश की वजह से ठंड में भी काफी बढ़ोतरी हुई है। राजधानी व इसके आसपास के इलाके में काफी देर तक गरज-तड़क की स्थिति भी देखी गई।

वहीं, प्रदेश के गया, नालंदा, नवादा, भोजपुर, औरंगाबाद में मध्यम स्तर की बारिश के साथ ओले गिरने की सूचना है। इन जिलों में भी पिछले 24 घंटों में ठंड में वृद्धि देखी गई। बारिश व ओला गिरने से कई प्रखंडों में रबी फसलों को आंशिक नुकसान भी पहुंचा है। बुधवार को बारिश के साथ गिरे ओले का आकार दो एमएम से आठ एमएम तक था।

मौसम विज्ञान केंद्र पटना से प्राप्त जानकारी के अनुसार पश्चिम बिहार एवं इसके आसपास एक चक्रवाती परिसंचरण का क्षेत्र बना हुआ है। जो समुद्रतल से 0.9 किमी तक फैला है। इन सभी मौसमी प्रभाव के कारण प्रदेश में अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के उत्तर पूर्व जिले सुपौल, अररिया, किशनगंज, पूर्णिया, कटिहार एवं उत्तर मध्य भाग के सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर, समस्तीपुर के अनेक स्थानों पर मेघगर्जन के साथ मध्यम स्तर के बारिश के आसार हैं।