फतेहाबाद: बूथ स्तर पर मनाया डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का बलिदान दिवस

फतेहाबाद, 23 जून (हि.स.)। आजादी के बाद देश की एकता, अखण्डता के लिए अपना बलिदान देने वाले भारतीय जनसंघ के संस्थापक, महान शिक्षाविद् व प्रखर राष्ट्रवादी चिंतक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस आज जिलेभर में भाजपा कार्यकर्ताओं ने बूथ स्तर पर श्रद्धाभाव से मनाया। कार्यकर्ताओं ने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें याद किया। भाजपा जिला कार्यालय में भी भाजपा पदाधिकारियों ने इस कार्यक्रम को श्रद्धाभाव से मनाया। कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष बलदेव सिंह ग्रोहा ने मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनसंघ व भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक डॉ. श्याम प्रसाद मुखर्जी ने मां भारती की सेवा के लिए अपना जीवन समर्पित किया। देशहित में अनेक कार्य किए, जिन्हें भुलाना संभव नहीं है। हम सभी को उनके जीवन तथा उनके कार्यों से प्रेरणा लेनी चाहिए और यह संकल्प लेना चाहिए कि स्वहित से बड़ा देशहित होता है। डॉ. मुखर्जी ने 1951 में भारतीय जनसंघ की स्थापना की और दो निशान, दो विधान और दो संविधान का खुला विरोध किया। कश्मीर समस्या को लेकर बड़े संघर्ष की शुरूआत की। तत्कालिक कांग्रेस सरकार के कुचक्र के कारण डॉ. मुखर्जी जेल गए और जेल में ही संदिग्ध हालत में मां भारती की सेवा में अपना जीवन बलिदान किया। डॉ. मुखर्जी देश के सच्चे सपूत थे। इस अवसर पर जिला महामंत्री जगदीश शर्मा, मीडिया प्रभारी महेश शर्मा, डॉ. रणजीत ओड, बनवारी लाल गहलोत, चन्द्र प्रकाश बजाज, पटेल सोनी, प्रेम वडवाल, रामकुमार मेहरा, हंसराज सचदेवा, नवजोत ग्रोहा सहित अनेक कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Check Also

गुजरात के इन इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश होगी, मौसम विभाग ने किया पूर्वानुमान

गांधीनगर : मौसम विभाग ने अगले पांच दिनों तक गुजरात में भारी से बहुत भारी …