पीरियड्स के दौरान भूलकर भी न खाएं पेनकिलर, परफ्यूम लगाने पर हो सकती है ये परेशानी!

अक्सर लड़कियों और महिलाओं को पीरियड्स (Periods) के दौरान बैक पेन, बदन दर्द, ज्यादा ब्लीडिंग और थकावट जैसी कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इन सबके पीछे का कारण आपकी ओर से अनजाने में की गई लापरवाही भी हो सकती है। ऐसे में पीरियड्स के दौरान आपको अपना खास ख्याल रखने की जरुरत है। पीरियड्स में दर्द ज्यादा बढ़ने पर आप पेनकिलर (Pain Killer) खा लेते हैं, जो आपके स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक है। कोई भी दवा खाने से पहले आप डॉक्टर की सलाह जरुर लें। यहां हम आपको बताने जा रहे है कि पीरियड्स के दौरान किस तरह की सावधानी बरतनी चाहिए और क्या करना चाहिए और क्या नहीं।

1-खाने-पीने का रखे खास ध्यान

महिलाएं और लड़कियां पीरियड्स के दौरान डाइटिंग बिल्कुल भी न करें। अगर आप खाने-पीने का ध्यान नहीं रखेंगी तो आपको ज्यादा थकावट महसूस होगी। ऐसे में आपको अच्छा और पौष्टिक भोजन खाना बेहद जरुरी है।

2-एक्सरसाइज जरुर करें

महिलाएं पीरियड्स के दौरान खुद को काफी सुस्त महसूस करती हैं और एक्सरसाइज करने के बिल्कुल भी मू़ड में नहीं होती, लेकिन पीरियड्स के दौरान आपको हल्की-फूल्की एक्सरसाइज करनी चाहिए। अगर आप एक्सरसाइज करती हैं तो पसीना के साथ बॉडी से टॉक्सिन बाहर निकल जाएंगे।

3-पेनकिलर के इस्तेमाल से बचें

पीरियड्स के दौरान पेनकिलर का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। अगर आप किसी भी पेनकिलर का इस्तेमाल करते हैं तो ये आगे चलकर आपके स्वास्थ्य के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकता है। अमेरिकन नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन की मानें तो पेनकिलर सेहत के लिए काफी हानिकारक होती है क्योंकि इससे शरीर में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया भी नष्ट हो जाते हैं और महिलाओं को अल्सर, किडनी, हार्टअटैक और लीवर संबंधी कई बड़ी परेशानियां हो जाती है।

4-पैड चेंज करते रहें

पीरियड्स के दौरान आपको बार-बार पैड चेंज करते रहना चाहिए। अगर आप दिन भर एक ही पैड के भरोसे रहेंगे तो इससे आपकी वजिना में खुजली, जलन और आस-पास की जगह पर रैशेज हो जाएंगे, जो आपकी परेशानी को और बढ़ा देंगे। कम से दिन में दो से तीन बार पैड जरूर बदलना चाहिए।

5- परफ्यूम के इस्तेमाल से बचें

महिलाओं को लगता है कि पीरियड्स के दौरान वह अगर परफ्यूम का इस्तेमाल कर खुद को फ्रैश रख सकती हैं तो ये सोचना बिल्कुल गलत है। परफ्यूम में सिंथेटिक और अन्य तरह के कई कैमिकल मौजूद होते हैं जो यीस्ट इन्फेक्शन का काफी बढ़ा देते हैं। यीस्ट इन्फेंक्शन को वजाइनल क्रश कहा जाता है।

6-गुड या शक्कर की चाय का करें सेवन

अगर पीरियड्स के दौरान आपकी कमर में ज्यादा दर्द हो रहा है तो आप हल्दी वाली दूध या गुड़ और शक्कर से बनी चाय पी सकते हैं। इससे काफी काफी फायदा मिलेगा।

7- अनप्रोटेक्टेड सेक्स

महिलाओं को लगता है पीरियड्स के दौरान वे प्रेग्नेंट नहीं हो सकती है। लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। पीरियड्स के दौरान भी प्रेग्नेंट होने की संभावना बनी रहती है। ऐसे में अनप्रोटेक्टेड सेक्स भूलकर भी न करें। इससे संक्रमण का खतरा बना रहता है।

Check Also

हाथ-पैर की झनझनाहट को ना करें इग्नोर, अपनाएं ये घरेलू उपाय

कई बार ऐसा होता है कि शरीर में खास तौर पर हाथ और पैर में …

");pageTracker._trackPageview();