क्या आप जानते हैं सर्दियों में काले तिल खाने के फायदे, कम होंगी वो सारी बीमारियां

काले तिल की ब्राउनी दादियों के जमाने से बनाई जा रही है. खाना इन्हें खासतौर पर सर्दियों में खाया जाता है। इस दौरान काले तिल की ब्राउनी की काफी डिमांड रहती है। क्‍योंकि ये सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं। सर्दियों में तिल की ब्राउनी खाने से हड्डियां मजबूत होती हैं. लोगों का मानना ​​है कि दर्द दूर हो जाएगा। जानकारों के मुताबिक.. इसके अलावा.. काला तिल कई स्वास्थ्य समस्याओं को कम करता है। काले तिल प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, कॉपर, मैंगनीज और फाइबर से भरपूर होते हैं। ये शरीर की कमजोरी को कम करते हैं। यह ब्लड सर्कुलेशन को भी बढ़ाता है। आइए जानते हैं काले तिल के और क्या फायदे हैं।

जोड़ों का दर्द

काले तिल जोड़ों के दर्द से राहत दिलाते हैं। सर्दियों में हड्डियों में दर्द और जोड़ों का दर्द बढ़ जाता है। गठिया के मरीजों के लिए सर्दी मुश्किल हो सकती है। ऐसे लोग दर्द से राहत पाने के लिए काले तिल खाते हैं या काले तिल के तेल से हड्डियों की मालिश करते हैं। अर्थराइटिस की समस्या कम होती है।
तिल के बीज में कैल्शियम की अच्छी मात्रा होती है। कॉपर और कैल्शियम मिलकर हड्डियों को मजबूत बनाते हैं। यदि आपके घर में बच्चे हैं तो उन्हें काले तिल अवश्य दें। ये बढ़ते बच्चों के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं।

दिल के लिए अच्छा है

काला तिल दिल को स्वस्थ रखता है। क्या आप जानते हैं.. सर्दियों में ब्लड सर्कुलेशन बहुत कम हो जाता है। इससे दिल से जुड़ी समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है। काले तिल शरीर को गर्म रखने के साथ ही ब्लड सर्कुलेशन भी बेहतर करते हैं। इससे दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। कई अध्ययनों से पता चला है कि काले तिल या इसके तेल का सेवन रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है। काले तिल में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती है। प्रोटीन में उच्च। स्वस्थ वसा से भरपूर। ये सभी रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने के लिए अच्छी तरह से काम करते हैं।

खूबसूरत त्वचा और चमकदार बालों के लिए

सर्दियों में त्वचा नमी खो देती है। रंग भी बदलता है। साथ ही त्वचा पूरी तरह से रूखी हो जाती है। इस मौसम में बाल भी काफी झड़ते हैं। लेकिन इन सभी समस्याओं से निजात दिलाने के लिए तिल आपके बहुत काम आता है। तिल के बीज में थियामिन, नियासिन, पाइरिडोक्सिन, फोलिक एसिड और राइबोफ्लेविन होते हैं। ये त्वचा और बालों दोनों के लिए अच्छे होते हैं। तिल खाएं या तेल को अपने चेहरे और बालों पर लगाएं और कुछ देर तक मसाज करें। ऐसा रोजाना करने पर.. सिर्फ चार दिनों में आपको फर्क नजर आने लगेगा। 

दाँतों को 

काला तिल दांतों के लिए भी बहुत अच्छा होता है। रोज सुबह काले तिल को चबाकर खाने से दांत मजबूत होते हैं। कैविटी और दांतों की अन्य समस्याएं खत्म हो जाती हैं। 

काला तिल ऊर्जा का अच्छा स्रोत है। वे ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर होते हैं। ये आपके शरीर की कमजोरी को दूर करेंगे। सर्दियों में आलस्य होना आम बात है। लेकिन काले तिल खाने से आप इस मौसम में भी एक्टिव रहेंगे। 

पाइल्स की समस्या से निजात 

पाइल्स सर्दियों में बहुत तकलीफदेह होता है। इस मौसम में रक्त वाहिकाएं सिकुड़ जाती हैं और रक्त संचार बाधित हो जाता है। इससे स्टूल पास करने में दिक्कत होती है। कभी-कभी मल में खून आता है। तिल के सेवन से बवासीर दूर हो जाती है। रोजाना ठंडे पानी के साथ काले तिल का सेवन करने से बवासीर की समस्या से निजात मिलती है। 

Check Also

सर्दियों के मौसम में सेलेब्स जैसी ग्लोइंग स्किन पाने के लिए अपनाएं ये खास टिप्स, जानिए क्या

ग्लोइंग स्किन हर किसी की चाहत होती है। हर कोई बेदाग, निखरी त्वचा चाहता है। हर कोई …