आंवला नवमी पर राशि के अनुसार करें यह सरल उपाय, घर में लक्ष्मीजी रहेंगी स्थाई

हिंदू धर्म में आंवला नवमी का बहुत महत्व है। इस दिन को अक्षय नवमी या कुष्मांडा नवमी भी कहा जाता है। आंवला नवमी के दिन भगवान विष्णु और आंवले के पेड़ की पूजा की जाती है। धार्मिक मान्यता है कि इस दिन स्नान और दान करने से अक्षय फल की प्राप्ति होती है और जीवन की सभी बाधाओं से मुक्ति मिलती है। साथ ही भगवान विष्णु की कृपा से धन का भंडार भरा रहता है और साधक को कभी भी आर्थिक समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता है। आंवला नवमी के दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए कई उपाय किए जाते हैं।

राशि के अनुसार उपाय…

मेष राशि:-

आंवला नवमी के दिन मेष राशि के जातकों को भगवान विष्णु के साथ-साथ आंवले के पेड़ की भी पूजा करनी चाहिए। पूजा करते समय आंवले के पेड़ पर 7 बार कच्चा धागा बांधें।

वृषभ:

वृषभ राशि के जातकों को सुख-सौभाग्य में वृद्धि के लिए अक्षय नवमी के दिन आंवले का पेड़ लगाना चाहिए।

मिथुन राशि:-

अक्षय नवमी के दिन मिथुन राशि वालों को अपने परिवार के साथ आंवले के पेड़ के नीचे भोजन करना चाहिए। इससे घर में सुख, शांति और समृद्धि आएगी।

कैंसर:

कर्क राशि के जातकों को आंवला नवमी के दिन आंवले के पेड़ की पूजा करनी चाहिए और पेड़ की जड़ में कच्चा दूध चढ़ाना चाहिए। मान्यता है कि इससे धन में बरकत होती है।

शेर:

सिंह राशि के जातकों को अक्षय नवमी के अवसर पर आंवले के पेड़ की विधिवत पूजा करनी चाहिए और पेड़ की 7 बार परिक्रमा करनी चाहिए।

लड़की:-

कन्या राशि वालों को इस दिन आंवले के पेड़ की जड़ में रोली अक्षत और चंदन चढ़ाना चाहिए और पेड़ की 7 बार परिक्रमा करनी चाहिए।

तुला:

तुला राशि के जातकों को सुख-सौभाग्य में वृद्धि के लिए इस दिन आंवले के पेड़ पर जल चढ़ाना चाहिए और भगवान विष्णु के मंत्रों का जाप करना चाहिए।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि वालों को अपनी मनोकामना पूरी करने के लिए आंवल नवमी के दिन भगवान विष्णु की पूजा करते समय घी का दीपक जलाना चाहिए और आंवले का प्रसाद खाना चाहिए।

अमीर 

धनु राशि वालों को अमला नवमी के दिन भगवान विष्णु के साथ देवी लक्ष्मी की भी पूजा करनी चाहिए।

मकर राशि: अक्षय नवमी के शुभ अवसर पर मकर राशि के जातकों को ब्राह्मणों को कद्दू का दान करना चाहिए। साथ ही अपनी क्षमता के अनुसार दान-पुण्य का कार्य भी करें।

कुंभ राशि:

कुंभ राशि वालों को अक्षय नवमी के दिन भगवान विष्णु की पूजा में आंवले का दान करना चाहिए और ब्राह्मणों को भी आंवले का दान करना चाहिए।

मछली:

आंवला नवमी के दिन भगवान विष्णु की पूजा करने की परंपरा है और भगवान विष्णु को तुलसी अत्यंत प्रिय है। इसलिए मीन राशि वालों को इस दिन शाम के समय तुलसी के पौधे के नीचे घी का दीपक जलाना चाहिए।