डीएम ने रामपुर पीओ और पीआरएस का वेतन रोका

भभुआ,23 जून(हि. स.)।डीएम नवदीप शुक्ला ने रामपुर प्रखंड के पीओ एवं अमाव पंचायत के पीआरएस के वेतन पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दिया है।

डीएम गुरुवार को रामपुर प्रखंड के अमाव पंचायत में योजनाओं की जांच कर रहे थे।अमाव गांव के पास मनरेगा से बनाए गए चेक डैम का निरीक्षण किया। जांच में यह सामने आया कि चेक डैम का निर्माण करीब एक माह पहले पूर्ण हो चुका है,लेकिन पीओ तथा पीआरएस की सुस्ती के कारण कार्यस्थल पर अब तक बोर्ड नहीं लगाया गया है।

उन्होंने बताया कि कार्यस्थल पर बोर्ड नहीं लगाया जाने से यह पता नहीं चल पा रहा है कि योजना पर काम कब शुरू हुआ, कितनी राशि की योजना है और कार्य कब समाप्त करना है।डीएम ने मामले को गंभीरता से लेते हुए पीओ तथा पीआरएस के वतन पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दिया।

डीएम ने गांव में भ्रमण कर स्कूल, स्वास्थ्य उप केंद्र, नल जल, पीडीएस एवं आंगनबड़ी केंद्र का भी निरीक्षण किया। आंगनबाड़ी केंद्र पर साफ सफाई नहीं दिखी। उन्होंने मौके पर उपस्थित सेविका से साफ सफाई का ख्याल रखने का निर्देश दिया। नल जल की जांच के दौरान ग्रामीणों ने डीएम से यह शिकायत दर्ज कराई कि गांव में अभी भी 20 घरों में नल जल का कनेक्शन नहीं है जिस कारण लोगों को पेयजल के लिए कठिनाई हो रही है।

उन्होंने मौके पर उपस्थित बीडीओ को त्वरित कार्रवाई करते हुए वंचित घरों तक नल जल का कनेक्शन एक सप्ताह के अंदर दिलाने का निर्देश दिया। अमाव गांव की गली में गंदा पानी भरा है। योजनाओं की जांच के दौरान जब डीएम गांव में पहुंचे तो काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित हो गए तथा गली में बह रहे गंदा पानी की समस्या से उन्हें रूबरू कराया। डीएम ने मौके पर उपस्थित बीडीओ से कहा गांव की गली अब तक क्यों नहीं बनी। बीडीओ ने जवाब दिया 15 वी वीत आयोग की योजना से अमाव गांव के गली का चयन कर लिया गया है। जल्द ही गली तथा नली का निर्माण कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा।

Check Also

अहमदाबाद: आज से अरविंद केजरीवाल का गुजरात दौरा, बिजली और शिक्षा के मुद्दे पर होगी सियासत गरम

जैसे -जैसे गुजरात  चुनाव नजदीक आ रहा है, विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं के दौरे बढ़ते जा …