Diabetes Diet Tips: डायबिटिक हैं तो ज्यादा सफेद चीजें खाने से रहें दूर

नई दिल्ली : मधुमेह रोगियों को अपने रक्त शर्करा के स्तर को हर समय नियंत्रण में रखना चाहिए। वे अक्सर अपने रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने के लिए स्वस्थ जीवन शैली और भोजन की आदतों को अपनाते हैं। वे अक्सर अपने रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने के लिए स्वस्थ जीवन शैली और भोजन की आदतों को अपनाते हैं। मधुमेह रोगियों को हमेशा सफेद खाद्य पदार्थों से दूर रहना चाहिए क्योंकि वे चीनी और कार्बोहाइड्रेट में उच्च होते हैं।

खाने में 4 सफेद चीजें जो मधुमेह के रोगियों को नहीं खानी चाहिए

पास्ता

पास्ता सॉस, क्रीम, पनीर और मक्खन से बनाया जाता है। इसमें बहुत अधिक कैलोरी, कार्बोहाइड्रेट होता है। इसे आटे से बनाया जाता है। साथ ही यह मोटापे का कारण भी बनता है। अगर आपको मधुमेह है तो पास्ता न खाएं।

आलू

आलू में कैलोरी, कार्बोहाइड्रेट, वसा, प्रोटीन और फाइबर होता है। इसमें उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है, जो मधुमेह रोगियों के लिए अच्छा नहीं है। आलू खाने से शरीर का ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है, इसलिए इसके सेवन से बचना चाहिए।

चावल

एक अध्ययन में पाया गया है कि जो लोग सफेद चावल खाते हैं उनमें टाइप-2 डायबिटीज होने का खतरा अधिक होता है। इसलिए अगर आप प्री-डायबिटिक हैं तो आपको चावल नहीं खाना चाहिए। सफेद चावल में उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है, जो शरीर के रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ा सकता है।

सफ़ेद ब्रेड

सफेद ब्रेड परिष्कृत स्टार्चयुक्त सामग्री से बनाई जाती है। ये चीजें चीनी की तरह काम करती हैं और बहुत जल्दी पच जाती हैं। इससे शरीर का ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है। सफेद ब्रेड में उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है।

Check Also

526142-1349073-belly-fat-pista1

वजन घटाने के उपाय: इस सूखे मेवे को खाने से मोम की तरह पेट की चर्बी पिघलती है और याददाश्त में सुधार

वजन घटाने के लिए पिस्ता: हम सभी जानते हैं कि सूखे मेवे और नट्स खाने …