डेल्टा एयरलाइन ने 3 मुस्लिम यात्रियों को हवाई जहाज से उतारा, जानिए क्या थी वजह

अमेरिकी परिवहन विभाग ने डेल्टा एयर लाइंस (Delta Air Lines) पर पचार हजार डॉलर (50,000 Dollar) का जुर्माना (Fine) लगाया है. दरअसल, विमान कंपनी (Airline Company) पर इस बात का आरोप लगा है कि उसने मुस्लिम यात्रियों (Muslim Passengers) को विमान से उतार दिया था.

परिवहन विभाग (Department of Transport) ने आदेश में कहा है कि डेल्टा एयरलाइंस ने भेदभावपूर्ण आचरण किया. विभाग ने कहा है कि एयर लाइंस ने तीन यात्रियों को निकालने पर भेदभाव विरोधी कानूनों का उल्लंघन किया है.

जानकारी के मुताबिक, 26 जुलाई 2016 की एक घटना में पेरिस के चार्ल्स डी गॉल एयरपोर्ट पर एक मुस्लिम जोड़े को डेल्टा फ्लाइट 229 से उतार दिया गया था.

दोनों यात्रियों के बारे में एक यात्री ने एक फ्लाइट अटेंडेंट को बताया कि उनके व्यवहार ने उसे ‘बहुत असहज’ कर दिया. शिकायत करने वाले यात्री ने कहा कि महिला ने सिर पर दुपट्टा पहना हुआ था और पुरुष ने अपनी घड़ी में कुछ डाला था.

वहीं फ्लाइट अटेंडेंट का कहना था कि उसने कई बार पुरुष को अल्लाह शब्द लिखते हुए टेक्सटिंग करते देखा. इसके बाद फ्लाइट कैप्टन ने डेल्टा की कॉर्पोरेट सिक्योरिटी के साथ बात की, जिन्होंने कहा कि दोनों अमेरिकी नागरिक घर लौट रहे थे और कहीं कोई रुकावट नहीं थी. उसके बाद कैप्टन ने उन्हें विमान से यात्रा करने से मना कर दिया.

परिवहन विभाग ने कहा कि डेल्टा के फ्लाइट कैप्टन सिक्योरिटी प्रोटोकॉल को फॉलो नहीं कर पाए और ऐसा लगता है कि यात्रियों के कथित धर्म के चलते उन्हें विमान से उतार दिया गया.

परिवहन विभाग के आदेश में शामिल दूसरी घटना में एक अन्य मुस्लिम यात्री शामिल था, जो 31 जुलाई 2016 को न्यूयॉर्क के लिए एम्स्टर्डम में फ्लाइट 49 पर सवार हुआ था.

इस दौरान साथी यात्रियों और फ्लाइट अटेंडेंट्स ने उसके बारे में शिकायत की, लेकिन अधिकारी ने उनके बारे में कुछ भी असामान्य नहीं देखा और डेल्टा सुरक्षा ने भी कहा कि यात्री के रिकॉर्ड में कोई दिक्कत नहीं थी. कप्तान विमान उड़ाने गया, लेकिन फिर गेट पर लौट आया और यात्री को विमान से उतारा और फिर उनके सीट की तलाशी ली.

Check Also

ऑस्ट्रेलिया में संक्रमण के 10 हजार से ज्यादा मामले; रूस में 24 घंटे में 6248 नए मरीज मिले; दुनिया में अब तक 1.32 करोड़ केस

वॉशिंगटन. दुनिया में कोरोनावायरस से अब तक 1 करोड़ 32 लाख 58 हजार 663 लोग …