डीयू रिओपनिंग:UG-PG फाइनल ईयर के स्टूडेंट्स के लिए आज से खुली दिल्ली यूनिवर्सिटी, सिर्फ उन्हीं प्रैक्टिकल क्लासेस का आयोजन होगा जो अगले सेमेस्टर के लिए जरूरी हैं

 

दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU) ने आज 15 सितंबर से फाइनल ईयर के अंडरग्रेजुएट और पोस्टग्रेजुएट छात्रों के लिए ऑफलाइन मोड में क्लासेज फिर से शुरू कर दी हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेज, डिपार्टमेंट और सेंटर्स आज से 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ प्रैक्टिकल क्लासेस के लिए फिर से खुल गए हैं। हालांकि थ्योरी कक्षाएं ऑनलाइन मोड में ही जारी रहेंगी। वहीं यूजी और पीजी छात्रों के लिए ऑफलाइन प्रैक्टिकल क्लासेस में उपस्थिति अनिवार्य नहीं की गई है।

डीयू में ऑफलाइन प्रैक्टिकल क्लासेस में भाग लेने वाले छात्रों को कम से कम कोविड वैक्सीन की एक खुराक लेना जरूरी है। हालांकि जिन छात्रों को हॉस्टल में रहना है, उन्हें फुली वैक्सीनेटेड होना अनिवार्य है। कक्षाओं में आने वाले टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ दोनों को भी पूरी तरह से टीका लगा होना चाहिए।

इन गाइडलाइन्स का करें पालन

  • टीचिंग और नॉन-टीचिंग स्टाफ को कोविड-19 टीकाकरण की दोनों खुराक जल्द से जल्द मिलनी चाहिए।
  • जो छात्र कॉलेज, डिपार्टमेंट, यूनिवर्सिटी विजिट कर रहे हैं, उन्हें कोविड-19 टीकों की कम से कम एक डोज मिलनी चाहिए। हालांकि, कैंपस के रेजिडेंट्स के लिए यह जरूरी है कि उनका पूरी तरह वैक्सीनेशन हो।
  • अंडरग्रेजुएट और पोस्टग्रेजुएट दोनों कोर्सेज के लिए थ्योरी क्लासेस अगले नोटिफिकेशन तक ऑनलाइन आयोजित की जाएंगी।
  • लाइब्रेरी विजिट करने के संबद्ध में डिपार्टमेंट छात्रों को लाइब्रेरी विजिट करने के लिए संबंधित स्लॉट दे सकते हैं।
  • फाइनल ईयर के यूजी और पीजी छात्रों को प्रैक्टिकल और लाइब्रेरी क्लासेज में भाग लेने की अनुमति दी जाएगी। हालांकि, कक्षाएं 50% क्षमता के साथ फिर से शुरू होंगी। डीयू द्वारा केवल वही एक्सपेरिमेंट्स, प्रैक्टिकल जो आगामी सेमेस्टर के लिए जरूरी हैं, आयोजित किए जाएंगे।
  • फिजिकल क्लासेज में भाग लेना ऑप्शनल है। इसलिए कक्षाओं में उपस्थिति अनिवार्य नहीं है।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

बिहार-झारखंड के युवाओं के पास सचिवालय में नौकरी करने का मौका, इन पदों पर मांगे गए आवेदन, जानें पूरी Detail

Patna: Lok Sabha secretariat recruitment 2021: नौकरी की तलाश कर रहे बिहार-झारखंड के युवाओं के पास …