Delhi FSR 2021 : केजरीवाल सरकार मार्च तक 33 लाख पौधे लगाएगी

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली को प्रदूषण मुक्त करने और पर्यावरण को हरा-भरा रखने के लिए दिल्ली सरकार कई उपाय कर रही है. इसी क्रम में दिल्ली सरकार ने मार्च तक 33 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य रखा है. अभी तक के प्रयास में पौधरोपण में 18 वर्ग किमी की वृद्धि हुई है. दिल्ली का हरित क्षेत्र दो साल में 21.88 प्रतिशत से बढ़कर 23.06 प्रतिशत हो गया है. यह बातें दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कही हैं. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली वृक्षारोपण नीति शुरू करने वाला पहला शहर बन गया है. इसके साथ पेड़ भी ट्रांसप्लांट किए जाएंगे.

गोपाल राय ने कहा कि केजरीवाल सरकार की पर्यावरण को लेकर प्रगतिशील नीतियों की गुरुवार केंद्र सरकार की रिपोर्ट ने भी पुष्टि कर दी है. केंद्रीय पर्यावरण मंत्री ने गुरुवार को राज्य वन रिपोर्ट (SFR-2021) जारी की. भारतीय वन सर्वेक्षण, केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने रिपोर्ट तैयार की है. इस रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली का ग्रीन कवर एसएफआर 2019 की तुलना में लगभग 18 वर्ग किलोमीटर की वृद्धि हुई है.

उन्होंने कहा कि SFR 2019 के अनुसार, दिल्ली का ट्री कवर 129 वर्ग किमी था, जो अब बढ़कर 147 वर्ग किलोमीटर हो गया है. यानी दो साल के भीतर 18 वर्ग किमी की वृद्धि हुई है. समग्र ग्रीन कवर (वन कवर + ट्री कवर) अब 342 वर्ग किमी (SFR 2021 के अनुसार) है जो पहले 324.44 वर्ग किमी था. इस प्रकार, हरित क्षेत्र में 17.5 वर्ग किमी की शुद्ध वृद्धि हुई है. पिछले दो साल यानी 2019-2021 में दिल्ली के कुल भौगोलिक क्षेत्र का‌ हरित क्षेत्र 21.88 फीसदी से बढ़कर 23.06 फीसदी हो गया है.

उन्होंने कहा कि मध्यम घना जंगल क्षेत्र 56.42 वर्ग किमी से 56.60 वर्ग किमी हो गया है. बहुत घने जंगल (6.2 वर्ग किमी) में कोई बदलाव नहीं हुआ है. खुला जंगल जो 132.30 वर्ग किमी था वह अब 131.68 वर्ग किमी हो गया है.

Check Also

खुजली, लाल आंखें ओमाइक्रोन संक्रमण का संकेत दे सकती हैं; आप सभी को इस नए लक्षण के बारे में जानने की जरूरत

भले ही ‘उपन्यास’ कोरोनावायरस SARS-CoV-2 हमारे बीच दो साल से अधिक पुराना है, लेकिन इसने …