दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम अचानक एक बार फिर अरविंद केजरीवाल के घर पहुंची

दिल्ली शराब घोटाला मामले में ईडी के नोटिस को बार-बार नजरअंदाज करने वाले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम शनिवार सुबह फिर अरविंद केजरीवाल के घर पहुंची. कहा जा रहा है कि इस मामले का दिल्ली शराब कांड से कोई संबंध नहीं है. दरअसल, बीजेपी नेताओं ने 30 जनवरी को दिल्ली पुलिस कमिश्नर से शिकायत की थी. यह शिकायत 6 पन्नों की थी. इस शिकायत के बाद ही गुरुवार रात दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को जांच करने के लिए कहा गया था.

केजरीवाल ने आरोप लगाया कि बीजेपी पार्टी उनके विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रही है

अरविंद केजरीवाल ने आरोप लगाया कि बीजेपी पार्टी उनके विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रही है. केजरीवाल ने कहा कि उनके 21 विधायकों को तोड़ने की योजना है. इस संबंध में उनके सात विधायकों से संपर्क किया गया.

टीम अरविंद केजरीवाल के घर नोटिस देने पहुंची

 

क्राइम ब्रांच की टीम शुक्रवार देर शाम सीएम अरविंद केजरीवाल के घर नोटिस देने पहुंची. एसीपी के नेतृत्व वाली टीम की सूचना सीएम आवास पर किसी को नहीं मिली. जानकारी के मुताबिक, क्राइम ब्रांच की टीम कल रात मंत्री आतिशी के घर भी नोटिस लेकर पहुंची थी. उधर भी किसी ने ध्यान नहीं दिया. ऐसे में क्राइम ब्रांच की टीम बीती रात दोनों जगहों से खाली हाथ लौट आई।

आखिरकार क्राइम ब्रांच की टीम नोटिस के जरिए अरविंद केजरीवाल और आतिशी से क्या जानना चाहेगी?

आप ने किस आधार पर अपने विधायकों पर पार्टी तोड़ने का आरोप लगाया? आपके द्वारा लगाए गए आरोपों के लिए आपके पास क्या सबूत हैं? अगर कोई सबूत है तो क्राइम ब्रांच को दें, क्राइम ब्रांच उसकी जांच करेगी.