थोक महंगाई में आई गिरावट, दिसंबर में थोक महंगाई दर फिसल कर 13.56 फीसदी रही

दिसंबर महीने के लिए थोक महंगाई दर (Decemeber Wholesale Price Index) में मामूली गिरावट आई है. दिसंबर महीने के लिए होलसेल प्राइस इंडेक्स (WPI in December) 13.56 फीसदी रहा है. नवंबर के महीने में थोक महंगाई दर 14.23 फीसदी रही थी. दिसंबर 2020 में थोक महंगाई दर महज 1.95 फीसदी रही थी. दिसंबर में मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्ट्स सेगमेंट में महंगाई दर 10.62 फीसदी रही, जबकि नवंबर में यह 11.92 फीसदी रही थी. वेजिटेबल्स सेगमेटं में महंगाई दर 31.56 फीसदी रही, जबकि नवंबर में यह महंगाई 3.91 फीसदी रही थी. अंडा, मीट, फिश सेगमेंट में महंगाई दर 6.68 फीसदी रही, जबकि नवंबर में यह महंगाई 9.66 फीसदी रही थी.

 

अनियन इंफ्लेशन माइनस 19.08 फीसदी रहा, जबकि नवंबर के महीने में यह माइनस 30.10 फीसदी रहा था. आलू के लिए महंगाई दर माइनस 42.10 फीसदी रहा, जबकि नवंबर में यह माइनस 49.54 फीसदी रहा. प्राइमरी आर्टिकल इंफ्लेशन रेट 13.38 फीसदी रहा, जबकि नवंबर में यह महंगाई दर 10.34 फीसदी रही थी. फ्यूल एंड पावर सेगमेंट में यह महंगाई 32.30 फीसदी और नवंबर में 39.81 फीसदी रही. वहीं, फूड इंफ्लेशन दिसंबर में 9.24 फीसदी रहा, जबकि नवंबर मे यह 6.70 फीसदी रहा.

 

लगातार चार महीने तक महंगाई में बढ़ोतरी

इससे पहले चार महीने तक मुद्रास्फीति में लगातार बढ़ोतरी हो रही थी. अप्रैल से लगातार नौवें महीने थोक मूल्य आधारित मुद्रास्फीति दहाई अंक में बनी हुई है. पिछले साल नवंबर में मुद्रास्फीति 14.23 फीसदी थी जबकि दिसंबर 2020 में यह 1.95 फीसदी थी.वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने मंगलवार को एक बयान में कहा, ‘‘दिसंबर 2021 में मुद्रास्फीति की दर मुख्य रूप से खनिज तेलों, मूल धातुओं, कच्चे पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस, रसायन और रासायनिक उत्पादों, खाद्य उत्पादों, कपड़ा, कागज और कागज के उत्पादों आदि की कीमतों में वृद्धि के कारण इससे पिछले साल इसी महीने की तुलना में ज्यादा है.’’

खुदरा महंगाई में आई तेजी

बुधवार को सरकार की तरफ से जारी डेटा के मुताबिक, दिसंबर महीने में खुदरा महंगाई (Retail Inflation in November) दर बढ़कर 5.59 फीसदी पर पहुंच गई. खुदरा महंगाई से आम लोगों पर सबसे अधिक असर पड़ता है. खाद्य उत्पादों (Food Products) की बढ़ती कीमतों के कारण खुदरा महंगाई दर नवंबर के 4.91 फीसदी से दिसंबर में 5.59 फीसदी पर पहुंच गई है. उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI) आधारित खुदरा मुद्रास्फीति नवंबर, 2021 में 4.91 फीसदी और दिसंबर, 2020 में 4.59 फीसदी थी. राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, दिसंबर में खाद्य मुद्रास्फीति बढ़कर 4.05 फीसदी हो गई, जो इससे पिछले महीने 1.87 फीसदी थी.

Check Also

चौथी तिमाही में यूएस स्मार्टफोन की बिक्री साल-दर-साल सपाट रही : रिपोर्ट

नई दिल्ली, 29 जनवरी (आईएएनएस) साल 2021 की चौथी तिमाही में यूएस स्मार्टफोन की बिक्री साल-दर-साल …