बिहार में स्कूल कब खुलेंगे, फैसला 6 अगस्त से पहले:शिक्षा मंत्री बोले- सरकार चाहती है कि बच्चों के स्कूल खोलें, बंद रहने से खराब असर पड़ रहा; CMG की बैठक में तय होगी तारीख

 

विजय चौधरी, शिक्षा मंत्री, बिहार। - Dainik Bhaskar

विजय चौधरी, शिक्षा मंत्री, बिहार।

बिहार में कोरोना की धीमी रफ्तार के बाद स्कूल खोलने की आवाजें भी उठने लगी है। 10 वीं से ऊपर के स्कूल-कॉलेज पहले ही 50% क्षमता के साथ खोलने की इजाजत दे दी गई है। अब बारी छोटे बच्चों के स्कूलों की है। ऐसे में गुरुवार को बच्चों के स्कूल खोले जाने के सवाल पर शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि 6 अगस्त तक प्रतिबंध लगा हुआ है। अभी 11 वीं, 12वीं और महाविद्यालय स्तर की कक्षाएं चल रही है। 6 अगस्त से पहले क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में यह तय होगा कि बच्चों के स्कूल कब से खुलेंगे या नहीं खुलेंगे। शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार और शिक्षा विभाग की मंशा है कि विद्यालय खुलना चाहिए। कहा कि लगातार विद्यालय बंद रहने से छात्रों पर इसका कुप्रभाव पड़ता है।

उन्होंने कहा कि कोरोना की स्थिति समय-समय पर बदल रही है। डॉक्टरों और वैज्ञानिकों का आंकलन भी बदलता रहता है। आईसीएमआर की तरफ से बुधवार को बताया गया कि बच्चे, वयस्क से ज्यादा सुरक्षित हैं। अभी तो सब कुछ ट्राई एंड एरर बेसिस पर है। उन्होंने यह भी कहा कि हम तो यही कहेंगे कि सभी लोग ईश्वर से मनाएं कि कोरोना को नियंत्रित रखें। कोरोना और ज्यादा नियंत्रित हो जाए तो हम लोग स्कूल खोलने की इच्छा रखते हैं।

संशय की स्थिति बनी हुई है, स्थिति सुधरी तो जल्द खुलेंगे स्कूल

शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि कोरोना के थर्ड वेव आने की बात भी कही जा रही है। कभी कहा जाता है कि वह जरूर आएगा। कभी खबर आती है कि केरल में आ गया है। महाराष्ट्र में आ गया है। इससे संशय और अजीबो-गरीब स्थिति हो जाती है। इच्छा रहते हुए भी हम सभी आशंकित और आतंकित हो जाते हैं। कोरोना नियंत्रित रह गया तो हम जल्द से जल्द स्कूल खोलेंगे।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

चीन में पढ़ रहे बिहार के छात्र की रहस्यमयी मौत

नई दिल्ली: बिहार के एक परिवार ने अपने लड़के की चीन में उसकी रहस्यमयी मौत पर …