Death Anniversary : जब केएल सहगल ने दिखाई दरियादिली, कड़ाके की ठंड में एक भिखारी को उतारकर दे दिए थे अपने कपड़े

केएल सहगल उर्फ कुंदल लाल सहगल (Kundal Lal Saigal), ये वो नाम है जिसे हिंदी सिनेमा के पहले सुपरस्टार के रूप में पहचान मिली. अभिनय ही नहीं, अपनी मनमोहक आवाज से भी केएल सहगल (KL Saigal) ने लोगों के दिलों पर राज किया. आज भारतीय सिनेमा (Indian Cinema) के इस दिग्गज कलाकार की पुण्यतिथि (KL Saigal Death Anniversary) है. केएल सहगल ने करीब 36 फिल्मों में अभनिय किया था और लगभग 180 गानों को अपनी आवाज दी थी. ‘जब दिल ही टूट गया’, ‘दो नैना मतवारे’ और ‘एक बंगला बने नयारा’ जैसे सुपरहिट गानों को अपनी आवाज देने वाले केएल सहगल को कोई भारतीय सिनेमा का तानसेन बुलाता था, तो कोई उन्हें गायकों का बादशाह कहता था.

जिस तरह से केएल सहगल गाना गाते थे, उसकी उन्होंने सिनेमा पर एक अमिट छाप छोड़ी है. आज के नौजवान केएल सहगल को याद करते हुए उनकी तरह गाना गाने की कोशिश करते हुए भी नजर आते हैं. रोबिंद्रो संगीत में निपुण केएल सहगल की प्रशंसा तो दिग्गज कवि रविंद्र नाथ टैगोर भी किया करते थे. केएल सहगल जितने अच्छे अभिनेता और गायक थे, उससे कहीं ज्यादा शानदार उनकी शख्सियत थी. नरम व्यवहार और उनकी दरियादिली का तो हर कोई कायल था.

जब केएल सहगल ने एक भिखारी को उतारकर दे दिए अपने कपड़े

आज केएल सहगल की पुण्यतिथि के मौके पर हम आपके लिए उनसे जुड़ा हुआ एक बहुत ही दिलचस्प किस्सा लेकर आए हैं, जिससे शायद आप अब तक अनजान हों. ये किस्सा केएल सहगल की दरियादिली की मिसाल पेश करता है, जिसे अभिनेता अन्नू कपूर ने अपने एक रेडियो शो सुहाना सफर विद अन्नू कपूर में सुनाया था.

अन्नू कपूर ने बताया था कि एक बार केएल सहगल काम से वापस घर लौट रहे थे. ये दिसंबर का महीना था और उस वक्त दिसंबर के महीने में मुंबई में सर्दी हुआ करती थी. घर जाते समय केएल सहगल की गाड़ी दादर के सर्कल पर रुकी. गाड़ी को देखते ही एक भिखारी दौड़कर आया और शीशे के बाहर से हाथ फैलाकर केएल सहगल के सामने खड़ा हो गया. उस भिखारी ने एक फटी हुई पैंट और कमीज डाली हुई थी. वह ठंड से बहुत ठिठुर रहा था. सर्दी के महीने में उस भिखारी को इस हालत में देख केएल सहगल ने उससे पूछा- तुझे ठंड नहीं लगती…

भिखारी को कपड़े देकर अंडरगार्मेंट्स में फुटपाथ पर बैठ गए थे केएल सहगल

केएल सहगल की ये बात सुनकर भिखारी ने उनसे कहा- साहिब, बहुत ठंड लगती है, पर क्या करूं यही पहनना पड़ता है, क्योंकि सिर्फ यही कपड़े हैं मेरे पास. ठंड, बारिश या गर्मी, कोई भी मौसम हो यही कपड़े पहनने हैं, क्योंकि मेरे पास तो सिर्फ यही हैं. उस भिखारी की ये बातें केएल सहगल के दिल पर तीर की तरह जा चुभीं. इसके बाद केएल सहगल अपनी गाड़ी से उतरे और उन्होंने अपने ड्राइवर को घर भेजा और कहा कि एक जोड़ी कपड़े लेकर आओ.

जैसे ही ड्राइवर घर के लिए निकला केएल सहगल ने अपने कपड़े उतारकर उस भिखारी को पहनने के लिए दे दिए और खुद फुटपाथ पर अंडरगार्मेंट्स में बैठकर अपने ड्राइवर के आने का इंतजार करते रहे. यह देखकर उस भिखारी ने उनसे कहा कि आप ऐसा मत कीजिए. ऐसे तो आप बीमार पड़ जाएंगे. इस पर सहगल ने उससे कहा कि तुम चिंता मत करो, ड्राइवर कपड़े लेकर आता ही होगा. वो आ जाएगा तो मैं कपड़े पहन लूंगा. जब तक वो आता है तुम मेरे कपड़े पहनकर रखो और मुझे इस सर्दी में ठिठुरने दो…

Check Also

‘कपड़ों की कमी और….’ कपड़ों का खुलासा करने पर फिर ट्रोल हुईं उर्वी जावेद

मुंबई: उर्फी जावेद कभी-कभी अपने अजीबोगरीब फैशन की वजह से चर्चा में रहती हैं. कभी अपने बोल्ड …