स्वतंत्रता संग्राम सेनानी रणजीत सिंह उर्फ बाबा जी की पुण्यतिथि मनाई गई

वाराणसी, 24 नवम्बर (हि.स.)। लोहता थाना क्षेत्र के भट्टी गांव में गुरुवार को स्वतंत्रता संग्राम सेनानी रणजीत सिंह उर्फ बाबा जी की 36वीं पुण्यतिथि मनाई गयी। इस अवसर पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा में रणजीत सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित किया गया। इस दौरान वक्ताओं ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी से संघर्ष और उनसे जुड़े संस्मरण सुनाएं।

वक्ताओं ने बताया कि रणजीत सिंह स्वतंत्रता आंदोलन में 1922, 1930,1932,1942 एवं 1947 में कुल 5 बार जेल गए। काशी विद्यापीठ ब्लॉक मुख्यालय पर स्थित कीर्ति स्तंभ में उनका नाम अंकित है। वर्ष 1972 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने आजादी के 25वें वर्ष पर ताम्रपत्र भेंट कर उनका सम्मान किया था। आजादी की लड़ाई में 5 वर्ष की अविस्मरणीय जेल यात्राओं के दौरान रणजीत सिंह डॉ संपूर्णानंद, लोकबंधु राजनारायण, पंडित कमलापति त्रिपाठी, निहाला सिंह जैसे सेनानियों के आदर के पात्र रहे। प्रतिदिन जेल में संध्या वंदन, कीर्तन एवं देश भक्ति गीत से कैदी भी इनके मुरीद थे। जेल में ही इन्हें उपनाम बाबा जी मिला था।

श्रद्धांजलि सभा में राजगुरु मठ पीठाधीश्वर दण्डी स्वामी अनन्तानन्द सरस्वती, जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम मौर्या, पूर्व विधायक सुरेन्द्र नारायण सिंह, पूर्व ब्लॉक प्रमुख रमाकांत सिंह उर्फ मिंटू आदि की उपस्थिति रही। सभा का संचालन अरविन्द सिंह और अतिथियों का स्वागत अध्यक्ष उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ काशी विद्यापीठ सनत कुमार सिंह ने किया।

Check Also

यूपी: सपा विधायक के दो बेटों और बहू पर लगे गंभीर आरोप, प्राथमिकी दर्ज

विधायक महबूब अली के दो बेटों, एक बहू और दो समर्थकों पर धोखाधड़ी, अपहरण और …