COVID-19 : उत्तर प्रदेश में कोरोना से मौतों का आंकड़ा 200 के पार

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की मौत का आंकड़ा 200 को पार कर गया है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश में पांच कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। इनमें लखनऊ, नोएडा, अम्बेडकरनगर, उन्नाव और मथुरा में एक-एक मौत हुई है। इस तरह प्रदेश में अब तक 202 मौतें हो चुकी हैं।

कोरोना से सबसे ज्यादा 40 मौतें आगरा में हुई हैं। इसके बाद मेरठ में 24 अलीगढ़ में 15, कानपुर और मुरादाबाद में 11-11,फिरोजाबाद में 10 , नोएडा, मथुरा व संतकबीरनगर में छह-छह, गोरखपुर में पांच ,गाजियाबाद, वाराणसी, बस्ती, झांसी में चार-चार, लखनऊ, जौनपुर, अयोध्या, प्रयागराज, प्रतापगढ़, अम्बेडकरनगर और एटा में तीन-तीन, बुलंदशहर, आजमगढ़, बिजनौर, बरेली, जालौन, चित्रकूट, मैनपुरी, उन्नाव और कुशीनगर में दो-दो, बाराबंकी, हापुड़, सिद्धार्थनगर, मुजफ्फरनगर, रायबरेली, अमरोहा, इटावा, महाराजगंज, बागपत, श्रावस्ती, कानपुर देहात, महोबा और ललितपुर में एक-एक मौत हुई है।

24 घंटे में 275 नए मरीज मिले
पिछले 24 घंटे में प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के 275 मामले सामने आए हैं। सबसे ज्यादा 26 मामले कानपुर नगर में पाए गए हैं। अब तक 7445 कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए जा चुके हैं। इनमें 2012 प्रवासी श्रमिक संक्रमित हुए हैं। शुक्रवार को 195 मरीज ठीक होकर घर चले गए। वहीं, अब तक 4410 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं।

नए मामलों में आगरा में सात, मेरठ में 10, नोएडा में 14, लखनऊ में 18, कानपुर नगर में 26, ग़ाज़ियाबाद में 12, सहारनपुर में आठ, फ़िरोज़ाबाद में पांच, मुरादाबाद में 10, वाराणसी में चार, जौनपुर में 11, बस्ती में एक, बाराबंकी में तीन, अलीगढ़ में 15, हापुड़ में दो, सिद्धार्थ नगर में सात, अयोध्या में नौ, ग़ाज़ीपुर में चार, आजमगढ़ में 20, बिजनौर में तीन, संभल में तीन, बहराइच में तीन, संतकबीर नगर में एक, प्रतापगढ़ में दो ,सुलतानपुर में सात, गोरखपुर में तीन, मुज़फ्फरनगर में 12, देवरिया में एक, लखीमपुर में एक, गोंडा में तीन, अमरोहा में एक, अम्बेडकरनगर में पांच, बरेली में एक, इटावा में तीन, हरदोई में सात, महाराजगंज में तीन, फतेहपुर में दो, कौशाम्बी में एक, कन्नौज में तीन, पीलीभीत में एक, शामली में एक, बलिया में सात, बलरामपुर में एक, भदोही में एक, चित्रकूट में तीन, मिर्ज़ापुर में दो, फर्रुखाबाद में चार, उन्नाव में एक,  एटा में एक, हाथरस में एक और कुशीनगर में एक मरीज पाया गया है।

कोरोना जांच के लिए हर जिले को ट्रूनैट मशीनें 
सरकारी अस्पतालों में शुरू हुई इमरजेन्सी सेवाओं के मरीजों में कोरोना वायरस के लक्षण का पता लगाने के लिए प्रदेश सरकार ने 20 ट्रूनैट मशीनें जिलों में भेजी हैं। बाकी 55 जिलों में भी एक-एक मशीन अगले पांच दिनों में पहुंच जाएगी। यह जानकारी चिकित्सा व स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को अपर मुख्य सचिव गृह व सूचना अवनीश अवस्थी के साथ एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में दी।

प्रमुख सचिव ने बताया कि ट्रूनैट मशीन से सरकारी अस्पताल की इमरजेंसी में आए मरीज की पहले जांच की जाएगी। इससे एक-डेढ़ घंटे में मालूम हो जाएगा कि मरीज कोराना वायरस संक्रमित है या नहीं। उसके बाद ही उसका इलाज शुरू किया जाएगा। इससे डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ को भी कोरोना वायरस से संक्रमित होने से बचाने में मदद मिलेगी। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के मरीजों की सांस की रफ्तार मापने के लिए सभी जिलों को पल्स ऑक्सीमीटर उपलब्ध करा दिए गए हैं। इसी तरह प्रत्येक जिले को 50-50 इन्फ्रारेड थर्मामीटर भी दिए गए हैं।

अब तक 2012 प्रवासी कोरोना पॉजिटिव
प्रमुख सचिव स्वास्थ्य ने बताया कि दूसरे राज्यों से आए 2012 प्रवासी श्रमिक कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीज निकले हैं। इस तरह अब तक कुल 7284 मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। पिछले 24 घंटों में 9981 नमूने जांच के लिए गए हैं। यह संख्या अब तक एक दिन में लिए जाने नमूनों में सबसे ज्यादा है। इस तरह प्रतिदिन टेस्टिंग के निर्धारित लक्ष्य 10 हजार तक स्वास्थ्य विभाग पहुंच चुका है। प्रदेश में अब तक ढाई लाख से ऊपर नमूनों की जांच हो चुकी है। 2,53,989 नमूनों की जांच हो चुकी है। पिछले 24 घंटों में पूल टेस्टिंग में 981 पूल पांच-पांच नमूनों के और 71 पूल 10-10 नमूनों के लिए गए हैं।

24 घंटे में 195 मरीज ठीक होकर घर गए
पिछले 24 घंटों में 195 मरीज डिस्चार्ज हुए। इनमें आगरा दो, मेरठ छह, नोएडा आठ, ग़ाज़ियाबाद पांच, फ़िरोज़ाबाद दो, वाराणसी 11, रामपुर 13, बाराबंकी 43, हापुड़ दो, अयोध्या तीन, अमेठी 10, प्रयागराज 14, प्रतापगढ़ छह, सुल्तानपुर चार,गोरखपुर एक, देवरिया तीन, रायबरेली तीन, अम्बेडकरनगर दो, बरेली पांच, हरदोई नौ, महराजगंज एक, फतेहपुर चार, कौशाम्बी आठ, पीलीभीत दो, शामली एक, बलिया 12, बलरामपुर दो, मैनपुरी तीन, फर्रुखाबाद एक, चंदौली छह और शाहजहांपुर के चार हैं।

Check Also

मां सरला ने कहा- 8 पुलिसकर्मियों की जान का काल बन गई 6 बीघा जमीन; विकास दुबे कहीं हो सामने आए

राहुल तिवारी ने विकास दुबे पर अपहरण और जानलेवा हमले की लिखाई थी एफआईआर एफआईआर …