सिद्धू की ताजपोशी का काउंटडाउन शुरू:सुखबिंदर सिंह डैनी के घर पहुंचे नवजोत सिंह, राजकुमार वेरका बोले- कल ताजपोशी कार्यक्रम में जरूर आएंगे कैप्टन

 

नवजोत सिंह सिद्धू को गुलदस्ता भेंट करके बधाई देते सुखबिंदर सिंह डैनी। - Dainik Bhaskar

नवजोत सिंह सिद्धू को गुलदस्ता भेंट करके बधाई देते सुखबिंदर सिंह डैनी।

पंजाब कांग्रेस के नवनियुक्त अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू की ताजपोशी का काउंटडाउन शुरू हो गया है। सिद्धू 23 जुलाई को चंडीगढ़ में पदभार संभालेंगे।

इसके लिए सिद्धू गुरुवार को करीब 12 बजे अमृतसर में होली सिटी स्टेट स्थित अपने घर से निकले। यहां से निकलकर सिद्धू सुखबिंदर सिंह डैनी के घर पहुंचे। जहां डॉ. राजकुमार वेरका भी मौजूद थे। यहां वेरका ने स्पष्ट किया कि कल सिद्धू के ताजपोशी कार्यक्रम में कैप्टन अमरिंदर सिंह जरूर आएंगे। वहीं विधायक इंद्रबीर सिंह बोलारिया ने कहा कि कैप्टन आत्मा हैं और सिद्धू शरीर। कोई मनमुटाव नहीं है।

दूसरी ओर, वे जिला कांग्रेसी कमेटी रूरल के प्रधान भगवंतपाल सिंह सच्चर से मिले थे। डैनी के घर विधायक डॉ. राजकुमार वेरका भी मौजूद थे। सच्चर के घर पूर्व जिला प्रधान रहे योगिंदर पाल ढींगरा से बात करते हुए सिद्धू ने कहा कि उनकी ताजपोशी में कोई भी वर्कर आ सकता है। जिस पार्टी में वर्कर की इज्जत नहीं, वहां क्या फायदा। इसके बाद सिद्धू ने सभी को उनकी ताजपोशी में आने के लिए भी कहा।

सच्चर से बातचीत करते हुए सिद्धू ने कहा कि वह खुद सभी बड़े वर्करों व नेताओं के घर जाकर मिलना चाहते हैं। इसीलिए वह पहले दिन से ही सभी को घर जाकर मिल रहे हैं। इस दौरान वह पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी माइनॉरिटी सेल के विक्टर मसीह से भी मिले। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एक सेकुलर पार्टी है। जो किसी एक धर्म का ना सोचते हुए देश की तरक्की के बारे में सोचती है।्र

नवजोत सिद्धू का स्वागत करते जिला कांग्रेसी कमेटी रूरल के प्रधान भगवंतपाल सिंह सच्चर।

नवजोत सिद्धू का स्वागत करते जिला कांग्रेसी कमेटी रूरल के प्रधान भगवंतपाल सिंह सच्चर।

सिद्धू के कार्यक्रम में बदलाव

नवजोत सिंह सिद्धू का पहला प्रोग्राम वीरवार चंडीगढ़ पहुंचने का था। लेकिन अब उसमें थोड़ा बदलाव किया गया है। सिद्धू के साथ चलने वाली टीम से मिली सूचना से पता चला है कि अब सिद्धू पहले पटियाला जाएंगे। वहां से देर शाम या शुक्रवार सुबह ही ताजपेाशी पर चंडीगढ़ पहुंचेंगे।

चंडीगढ़ में कांग्रेस भवन में होगी ताजपोशी

शुक्रवार सुबह 11 बजे चंडीगढ़ स्थित कांग्रेस भवन में सिद्धू की ताजपोशी होगी। इनके साथ 4 कार्यकारी अध्यक्ष संगत सिंह गिलजियां, सुखविंदर सिंह डैनी, पवन गोयल और कुलजीत सिंह नागरा भी अपनी जिम्मेदारी संभालेंगे। इससे पहले चारों कार्यकारी अध्यक्ष प्रदेश के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर को न्योता देने जाएंगे। इसके लिए मुख्यमंत्री से मिलने का समय मांगा गया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी सिद्धू की ताजपोशी में शिरकत कर सकती हैं। पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा, कुमारी सैलजा, हिमाचल से कुलदीप सिंह व राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत को भी निमंत्रण भेजा गया है। सूचना है कि नवजोत सिंह सिद्धू कीताजपोशी में हरीश रावत भी आएंगे।

विधायकों के साथ नवजोत सिंह सिद्धू।

विधायकों के साथ नवजोत सिंह सिद्धू।

विधायकों को नाश्ते पर बुलाया, फिर शीश नवाया

वहीं, बुधवार को सिद्धू ने अमृतसर में शुकराना अदा किया। विधायकों की फौज के साथ सिद्धू ने अमृतसर स्थित श्री दरबार साहिब और दुर्ग्याणा मंदिर में माथा टेका। दरअसल, सिद्धू ने बुधवार सुबह अपने घर सभी कांग्रेसी विधायकों को नाश्ते पर बुलाया था। इस आमंत्रण पर सिद्धू के घर पर पंजाब के चार मंत्रियों समेत 50 विधायक जुटे। इसमें कैबिनेट मंत्री सुखबिंदर सिंह सरकारिया, सुखजिंदर सिंह रंधावा, तृप्त रजिंदर बाजवा और चरणजीत सिंह चन्नी चार मंत्रियों के अलावा चारों वर्किंग प्रेसिडेंट भी मौजूद रहे। 2 आप के विधायक भी पहुंचे, जाे हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुए थे।

यहीं नहीं 18 जुलाई काे कैप्टन के हक में हाईकमान काे लैटर लिखने वाले 5 विधायक भी सिद्धू की काेठी पहुंचे। लेकिन कैप्टन के अलावा 32 कांग्रेसी विधायक नहीं पहुंचे। इसके बाद सिद्धू ने सभी को साथ लेकर दरबार साहिब, दुर्ग्याणा मंदिर व मंदिर रामतीर्थ में शीश नवाया। लेकिन माना जा रहा है कि सिद्धू ने शुकराना के बहाने शक्ति प्रदर्शन किया। सिद्धू यह संदेश देना चाहते हैं कि पार्टी में उनकी स्वीकार्यता है। पार्टी का बड़ा वर्ग उनके साथ है।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में भारी बारिश का रेड अलर्ट

पिथौरागढ़ : उत्तराखंड के पिथौरागढ़, बागेश्वर, नैनीताल, पौड़ी व देहरादून में बारिश का रेड अलर्ट …

");pageTracker._trackPageview();