Coronavirus: 31 मई तक बंद रहेगा इलाहाबाद हाईकोर्ट, हाई लेवल कमेटी की बैठक में हुआ फैसला

प्रयागराज: कोरोना महामारी और लॉकडाउन के बीच इलाहाबाद हाईकोर्ट में पिछले दो महीने से जारी छुट्टियां 31 मई तक बढ़ा दी गई है. शुक्रवार को हुई हाई लेवल कमेटी की बैठक में छुट्टियां बढ़ाने का फैसला लिया गया.

 

चीफ जस्टिस द्वारा जस्टिस भारती की अध्यक्षता में गठित कमेटी में तय किया गया कि कोरोना महामारी के चलते अभी फिजिकली तौर पर कामकाज किया जाना संभव नहीं है. कोर्ट खुलने से भीड़ बढ़ेगी और संक्रमण फैलने का खतरा रहेगा. बतादें कि अगले हफ्ते कमेटी की एक और बैठक होगी, जिसमें कोर्ट के खुलने पर फैसला लिया जाएगा.

 

 

हाईकोर्ट खोले जाने को लेकर आज दोपहर हाई लेवल कमेटी की बैठक हुई. बैठक में कई सदस्य जज, हाईकोर्ट और इसकी लखनऊ बेंच के बार के पदाधिकारी और सरकार की ओर से एडिशनल एडवोकेट जनरल मनीष गोयल मौजूद थे. वकीलों ने कोर्ट का कामकाज शुरू किये जाने की अपील की.

 

वकीलों की दलील थी कि उनका का रोजगार प्रभावित हो रहा है और जरूरी मामलों की सुनवाई नहीं हो पा रही है. दलील में यह भी कहा गया कि जब जिला अदालतों में काम हो रहा है तो हाईकोर्ट में काम होने में कोई दिक्कत नहीं है. गौरतलब है कि इलाहाबाद हाईकोर्ट 18 मार्च से बंद चल रहा है और सिर्फ अतिआवश्यक मामलों की ही सुनवाई हो रही है.

Check Also

ट्यूशन पढ़ाया, कास्मेटिक का किया व्यवसाय, अब यूपी के आदेश गुप्ता बने दिल्ली BJP के प्रदेश अध्यक्ष

लखनऊ(Uttar Pradesh).  उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले के गुरसहायगंज कस्बे के मूल निवासी आदेश गुप्ता को …