Corona Vaccine: मार्च में तेज होगा कोरोना वैक्सीन लगाने का काम, बड़े पैमाने पर शामिल होंगे प्राइवेट सेक्टर्स

देश के कई राज्यों में कोरोना (Coronavirus) का खतरा एक बार फिर मंडराने लगा है. मरीजों की संख्या बढ़कर 1 करोड़ 10 लाख के पार पहुंच गई है, ऐसे में स्थिति वापस चिंताजनक बनती नजर आ रही है. इस बीच गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah)  ने सोमवार को देश में कोरोना की स्थिति का जायजा लिया और वैक्सीन लगाने में तेजी लाने के निर्देश दिए. 1 मार्च से 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन लगने का काम शुरू हो जाएगा, ऐसे में अब सरकार प्राइवेट सेक्टर्स को भी वैक्सीन लगाने के इस काम में शामिल करने वाली है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार चाहती है कि 27 करोड़ लोगों के उनके टारगेट में से ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा सके, यही कारण है कि अब प्राइवेट सैक्टरों को भी इसमें शामिल किया जा सकता है ताकी बड़े पैमाने पर काम शुरू हो सके. मार्च में जिन लोगों को वैक्सीन लगने वाली है, उनमें वो भी शामिल होंगे जो 50 साल से कम उम्र के हैं लेकिन हाइ रिस्क पर हैं.

वहीं नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल ने बताया कि अभी भी स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्करों को वैक्सीन लगाने के काम में प्राइवेट सेक्टर मदद कर रहा है. हर रोज दिए जाने वाले 10 हजार वैक्सीन में से 2 हजार वैक्सीन लगाने का काम प्राइवेट सेक्टर्स ही करते हैं. ऐसे में अब जब इस पूरी प्रक्रिया में औऱ तेजी आने वाली है तो प्राइवेट सेकटर्स को भी इसमें बड़े पैमाने पर शामिल किया जाएगा.

केंद्र ने दिए निर्देश

मार्च के पहले हफ्ते से 50 साल से ऊपर के लोगो को कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी. इसके लिए तैयारियां तेज हो गई है. वहीं केंद्र ने भी राज्यों को सभी जरूरी तैयारियां पूरी करने के निर्देश दिए हैं. बताया जा रहा है कि वैक्सीन लगाने की ये प्रक्रिया 1 मार्च से शुरू हो जाएगी.

केंद्रीय स्वास्थय सचिव राजेश भूषण ने मुख्य सचिवों को निर्देश दिया है कि सभी स्वास्थ्य केंद्रो में टीकाकरण की तैयारियां की जाए. बताया जा रहा है कि 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के साथ-साथ बीमार लोगों को 1 मार्च से टीका लगाया जाएगा.

राजेश भूषण ने ये भी सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि हफ्ते में करीब 4 दिन टीकाकरण का ये कार्यक्रम चलाया जाए और लोगों के रजिस्ट्रेशन के लिए भी सारी तैयारियां पूरी कर ली है. इसके साथ ही भूषण ने ये भी बताया कि अभी भी कई स्वास्थ्य कर्मियों को भी कोरोना वैक्सीन दी जानी है, ऐसे में इस पूरी प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरा करना होगा.

Check Also

सेना के पेपर लीक का मामला:पुलिस ने 7 लोगों को किया अरेस्ट, एक पेपर को 4 से 5 लाख रुपए में बेचते थे; गिरफ्तार आरोपियों में सेना के दो पूर्व जवान भी शामिल

  सभी आरोपियों को पुणे के बारामती, मालेगांव से अरेस्ट किया गया है। आर्मी में …