दिल्ली में कोरोना विस्फोट, महज 12 दिन में 1700 पुलिसकर्मी हुए संक्रमित, सभी की हालत स्थिर

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के 1700 से अधिक कर्मी एक जनवरी के बाद से कोरोना वायरस (Corona Virus) से संक्रमित हुए हैं. यह जानकारी बुधवार को अधिकारियों ने दी. उन्होंने कहा कि पात्र लाभार्थियों को बूस्टर खुराक देने के लिए पुलिस मुख्यालय में विशेष शिविर लगाई गई है. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘एक जनवरी से 12 जनवरी के बीच 1700 से अधिक पुलिसकर्मी संक्रमित (Policeman Infected)  पाए गए हैं. सभी की हालत ठीक है और वे पृथक-वास में हैं. ठीक होने के बाद वे ड्यूटी पर आएंगे.’’

उन्होंने बताया कि जय सिंह मार्ग पर स्थित पुलिस मुख्यालय में काम करने वाले कर्मियों के लिए एहतियात के तौर पर एक विशेष शिविर लगाया गया है जहां पात्र कर्मियों को बूस्टर खुराक दिए जाएंगे. विशेष पुलिस आयुक्त (कल्याण) शालिनी सिंह ने कहा, ‘‘पीएचक्यू के भूतल पर ऑफिसर्स लाउंज में साढ़े 11 बजे से कोविड टीका के एहतियाती खुराक देने के लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं. यह पहल इसलिए की गई है ताकि हमारे मुख्यालय में तैनात सुरक्षाकर्मियों को कार्य अवधि के दौरान बूस्टर खुराक लेने के लिए बाहर नहीं जाना पड़े.’’

कोरोना वायरस से बच सकें
उन्होंने कहा, ‘‘केवल उन्हीं पात्र पुलिसकर्मियों को बूस्टर खुराक दी जाएगी जिन्होंने टीके की दूसरी खुराक नौ महीने पहले ली थी.’’ पुलिसने बताया कि मंगलवार को जिलों एवं अन्य इकाइयों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हुई बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिया गया कि वे अपने मातहत अधिकारियों को निर्देश दें कि वे खुद का ध्यान रखें और मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) को अपनाएं ताकि कोरोना वायरस से बच सकें.

 25000 के आसपास नए मामले आ सकते हैं
वहीं, कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बुधवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में पिछले पांच दिन से अस्पताल में भर्ती होने वाले कोविड-19 के मरीजों की संख्या स्थिर हैं, जिससे प्रतीत होता है कि कोरोना वायरस की मौजूदा लहर संभवत: चरम पर पहुंच चुकी है और दो-तीन दिन में मामले कम हो सकते हैं. उन्होंने बताया कि दिल्ली (Delhi) में बुधवार को 25000 के आसपास नए मामले आ सकते हैं.

Check Also

खुजली, लाल आंखें ओमाइक्रोन संक्रमण का संकेत दे सकती हैं; आप सभी को इस नए लक्षण के बारे में जानने की जरूरत

भले ही ‘उपन्यास’ कोरोनावायरस SARS-CoV-2 हमारे बीच दो साल से अधिक पुराना है, लेकिन इसने …