पाकिस्तान क्रिकेट टीम में फिर विवाद! खिलाड़ियों के भविष्य को लेकर पीसीबी ने लिया बड़ा फैसला

पाकिस्तान की क्रिकेट टीम में काफी उथल-पुथल देखने को मिल रही है. पाकिस्तान टीम के खिलाड़ी विदेशी लीग में खेलने के लिए बोर्ड से एनओसी मांग रहे हैं। लेकिन पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें एनओसी देने से साफ इनकार कर दिया है. बोर्ड का कहना है कि पाकिस्तानी खिलाड़ियों को पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) खेलने पर ध्यान देने की जरूरत है।

इस तारीख से पीएसएल की शुरुआत

पाकिस्तान सुपर लीग इस महीने की 17 तारीख से शुरू होने जा रही है. पाकिस्तानी खिलाड़ियों को बीपीएल और आईएलटी20 लीग खेलने के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से एनओसी की जरूरत होती है। लेकिन बोर्ड चाहता है कि पाकिस्तान के सभी बड़े खिलाड़ी पीएसएल में खेलें. इसी वजह से बोर्ड ने खिलाड़ियों को एनओसी देने की मांग नहीं मानी. इस कारण खिलाड़ी जल्द ही पाकिस्तान लौटकर पीएसएल में हिस्सा ले सकते हैं.

 

बोर्ड के फैसले का खिलाड़ियों पर असर

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के इस फैसले से खिलाड़ी नाराज हो गए हैं. ऐसे में उम्मीद है कि पाकिस्तान के कुछ बड़े खिलाड़ी बोर्ड के साथ राष्ट्रीय अनुबंध भी रद्द कर सकते हैं. कल पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मिस्बाह-उल-हक ने भी इस विवाद पर बयान दिया. पूर्व कप्तान ने भी पाकिस्तानी खिलाड़ियों का समर्थन किया और कहा कि उन्हें एनओसी मिलनी चाहिए. अगर खिलाड़ियों को किसी बाहरी लीग में खेलकर पैसा कमाने का मौका मिलता है तो उन्हें इसके लिए एनओसी लेनी होगी। अब देखना यह है कि बोर्ड के इस फैसले का खिलाड़ियों पर क्या असर पड़ता है.