Health Tips: इस विटामिन की कमी से होती है हाथ-पैरों में झुनझुनी, जानें लक्षण और उपाय

Health Tips: कई बार हम छोटी-छोटी समस्याओं को नजरअंदाज कर देते हैं, लेकिन आपको याद रखना चाहिए कि शरीर ऐसे संकेत तभी देता है, जब चीजें गंभीर होने लगती हैं. अगर समय पर इन पर ध्यान न दिया जाए और इनका इलाज न किया जाए तो शरीर अंदर से खोखला होने लगता है और फिर यह एक बड़ी बीमारी के रूप में सामने आता है। खासतौर पर विटामिन की कमी से होने वाली बीमारियों के लक्षण आम हैं, लेकिन लंबे समय तक नजरअंदाज किए जाने पर शरीर को काफी नुकसान होता है।

विटामिन की कमी

हमारा शरीर विटामिन, कैल्शियम, प्रोटीन, खनिज आदि पोषक तत्वों से बना है। इन सभी का शरीर में पर्याप्त मात्रा में होना बहुत जरूरी है तभी हमारा शरीर ठीक से काम कर पाएगा। अगर इनमें से किसी एक की भी कमी हो तो सेहत से जुड़ी तमाम परेशानियां शुरू हो जाती हैं। अगर आपके हाथ या पैर में झनझनाहट हो रही है तो यह विटामिन की कमी का संकेत है। आइए जानते हैं इसके कारण और इलाज-

झुनझुनाहट क्यों होती है?

    • विटामिन बी और ई हमारे तंत्रिका तंत्र के सुचारू कामकाज में मदद करते हैं। इनकी कमी से पैरों और हाथों में झनझनाहट होने लगती है।
    • कभी-कभी आपको किसी दवा के साइड इफेक्ट के कारण झुनझुनी महसूस हो सकती है।
    • यह उच्च रक्तचाप या तपेदिक रोग में भी महसूस किया जा सकता है।
  • ज्यादा शराब पीने से शरीर में विटामिन बी12 फोलेट की कमी हो जाती है। इससे हाथ-पैरों में झनझनाहट भी होती है।
  • थायराइड की समस्या भी आपके हाथों और पैरों में झुनझुनी का कारण बन सकती है।

क्या किया जाए?

यदि आप हाथों या पैरों में लगातार झनझनाहट का अनुभव कर रहे हैं, तो तुरंत अपने चिकित्सक को देखें और अपने लक्षणों के आधार पर उचित विटामिन लेना शुरू करें। इसे नजरअंदाज करने से स्थिति गंभीर हो सकती है। साथ ही अगर आपको करवट बदले बिना एक ही पोजीशन में सोने की आदत है तो इसे बदल लें। क्‍योंकि इससे पैरों और हाथों में झुनझुनी भी हो सकती है। इसके अलावा रोजाना टहलना शुरू करें और हाथ पैरों से जुड़ी हल्की एक्सरसाइज करें। इससे भी राहत मिलती है।

Check Also

Propose Day 2023: प्रपोज डे पर अगर आप अपने क्रश से अपने दिल की बात का इजहार करना चाहते हैं तो इन बेस्ट आइडियाज को फॉलो करें

Propose Day 2023 : किसी से प्यार करना बहुत आसान है, लेकिन उसे जताना उतना …