बोली को लेकर हेमंत पर भड़के CM नीतीश:कहा- पता नहीं लोग पॉलिटिकली क्या-क्या बोलते रहते हैं, काहे का कोई बोली दबंग होगा, कोई भी बोली एक राज्य की होती है क्या

 

जनता दरबार के बाद मीडियकर्मियों से बातचीत करते CM नीतीश कुमार। - Dainik Bhaskar

जनता दरबार के बाद मीडियकर्मियों से बातचीत करते CM नीतीश कुमार।

झारखंड के CM हेमंत सोरेन के मगही-भोजपुरी बोली पर बयान को लेकर बिहार के CM नीतीश कुमार सोमवार को भड़क गए। उन्होंने जनता दरबार के बाद कहा कि पता नहीं कुछ लोग इस तरह के बयान देकर कौन सी राजनीति करते हैं, जबकि बिहार-झारखंड आपस में भाई है।

नीतीश कुमार ने कहा कि जिन लोगों को इस बात का कोई एहसास नहीं है, बिहार तो एक ही था। फिर बिहार दो हिस्से में बंटा। कोई भी भाषा दबंग नहीं होती है। बिहार के लोगों को और झारखंड के लोगों को एक-दूसरे के प्रति पूरा प्रेम है। पता नहीं लोग पॉलिटिकली क्या-क्या बोलते रहते हैं। हम लोग तो एक-दूसरे की इज्जत करते हैं, एक-एक व्यक्ति का सम्मान करते हैं। बिहार और झारखंड तो दोनों भाई है। आपस का है, एक ही परिवार के हैं सब लोग। वैसे पूरे देश के लोग एक परिवार के हैं। वैसे इसे विशेष तौर पर मान कर चलिए।

बंटवारे के बाद हुई थी बर्बादी
जनता दरबार के बाद पत्रकारों से बात करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार को झारखंड पर, झारखंड को बिहार पर बोलने की कोई आवश्यकता नहीं है। दोनों को प्रेम है। पहले बिहार में जो लोग थे, पहले झारखंड में जाते थे। अब कोई बिहार से झारखंड जाता है। यह पुराने जमाने की बात थी। अब कोई नहीं जाता है। जानते हैं ना, बिहार और झारखंड का बंटवारा हुआ था तो, बिहार में कितनी मायूसी आ गई थी। झारखंड अलग हो गया तो बिहार बर्बाद हो जाएगा, कुछ नहीं रहेगा।

बिहार के लोगों को वह बातें याद नहीं रहती हैं। बिहार में अब कितना विकास हुआ है, कितना काम हुआ है। बिहार झारखंड बंटा तो बहुत सारे इंस्टिट्यूशन का निर्माण झारखंड में किया गया था। यहां तक कि पुलिस ट्रेनिंग भी वहीं होती थी। फिर से बिहार में सब कुछ नए तरीके से विकसित किया गया है। यह सब एक अलग विषय है।

लाभ लेना चाहते हैं हेमंत सोरेन

नीतीश कुमार से पूछा गया कि हेमंत सोरेन ने भोजपुरी मगही को दबंग भाषा कहा है तो नीतीश कुमार ने कहा कि काहे का कोई भाषा दबंग होगा, कोई भी लैंग्वेज एक राज्य का होता है क्या? सब अलग अलग राज्य में रहते हैं। यूपी में जो बोलता है बिहार में बोलते हैं। बिहार वाले यूपी में बोलते हैं। झारखंड वाले बिहार में बोलते हैं। पता नहीं उनकी कोई इच्छा हो सकती है, इसका कोई लाभ लेना चाहते हैं।

 

खबरें और भी हैं…


  • मौत की अफवाह उड़ी, विधायक बोले- मैं जिंदा हूं: VIP के विधायक मुसाफिर पासवान को लेना पड़ा सोशल मीडिया का सहारा, शरारती लोगों ने उनकी मौत की झूठी खबर फैला दी थी

    VIP के विधायक मुसाफिर पासवान को लेना पड़ा सोशल मीडिया का सहारा, शरारती लोगों ने उनकी मौत की झूठी खबर फैला दी थी|बिहार,Bihar - Dainik Bhaskar

     

    • कॉपी लिंक

    शेयर


  • गया में पितृपक्ष के कर्मकांड शुरू: 17 दिनों तक चलेगा श्राद्धकर्म, पहले दिन 5-7 हजार ही तीर्थयात्री आए; UP, MP, ओडिशा , राजस्थान, बंगाल के तीर्थ यात्री अधिक दिखे

    17 दिनों तक चलेगा श्राद्धकर्म, पहले दिन 5-7 हजार ही तीर्थयात्री आए; UP, MP, ओडिशा , राजस्थान, बंगाल के तीर्थ यात्री अधिक दिखे|गया,Gaya - Dainik Bhaskar

     

    • कॉपी लिंक

    शेयर


  • CM के कारकेड की गाड़ी से हादसा, एक घायल: बांका में CM के कार्यक्रम का निरीक्षण करने जा रही थी टीम, नालंदा में सामने से आ रही प्राइवेट कार से टक्कर; ड्राइवर का सिर फटा

    बांका में CM के कार्यक्रम का निरीक्षण करने जा रही थी टीम, नालंदा में सामने से आ रही प्राइवेट कार से टक्कर; ड्राइवर का सिर फटा|बिहार,Bihar - Dainik Bhaskar

     

    • कॉपी लिंक

    शेयर


  • अब पटना AIIMS में हाइटेक होगी सर्जरी: AIIMS में चंद मिनटों में होगा किडनी की पथरी का ऑपरेशन, शरीर से नहीं बहेगा अधिक खून; यूरोलॉजी विभाग में नई लेजर मशीन इंस्टॉल

    AIIMS में चंद मिनटों में होगा किडनी की पथरी का ऑपरेशन, शरीर से नहीं बहेगा अधिक खून; यूरोलॉजी विभाग में नई लेजर मशीन इंस्टॉल|बिहार,Bihar - Dainik Bhaskar

     

    • कॉपी लिंक

    शेयर

Check Also

विधानसभा के दोनों सीटों पर होंगे चौकाने वाले परिणाम : शकील अहमद

भागलपुर, 26 अक्टूबर (हि.स.)। तारापुर चुनाव प्रचार को लेकर भागलपुर पहुंचे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता …