राजस्थान में प्री-मानसून की सक्रियता से 18 जिलों में बरस रहे बादल

जयपुर, 20 जून (हि.स.)। राजस्थान में बारिश का दौर सोमवार को भी जारी है। प्रदेश के अधिकतर जिलों में रविवार देर रात से ही रुक-रुककर बारिश हो रही है। सोमवार को 18 जिलों में तेज बारिश और बिजली गिरने का अलर्ट जारी किया गया है। इससे पहले रविवार को प्री मानसून जमकर बरसा। हनुमानगढ़ में राजस्थान का सबसे ठंडा दिन रहा। जोरदार बारिश की वजह से हनुमानगढ़ का अधिकतम तापमान लुढ़ककर 29 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। जयपुर में सुबह से रुक-रुककर बारिश का दौर जारी रहा। इससे सामोद में झरना बहना शुरू हो गया। जयपुर के अलग-अलग क्षेत्रों में 50 मिमी तक बारिश हुई। साथ ही तापमान 6 डिग्री तक नीचे आ गया।

राजस्थान में रविवार को कुल 13 जिलों में बारिश हुई। सबसे ज्यादा बारिश सीकर में 48 मिमी हुई। वहीं, जयपुर दूसरे नंबर पर रहा। यहां कुल 44.8 मिमी बारिश हुई। रविवार को प्री-मानसून की बारिश ने जयपुर को भिगो दिया। सड़कों पर पानी भर गया। इस दौरान चारदीवारी में हालात इतने बिगड़े कि वाहन चालकों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। मानसरोवर, झोटवाड़ा, खातीपुरा, वैशाली नगर, सिरसी रोड, अजमेर रोड, आगरा रोड पर करीब 40 से 50 मिमी तक बारिश दर्ज की गई। तापमान में करीब 4 से 6 डिग्री तक गिरावट आ गई।

जयपुर मौसम केंद्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि प्री-मानसून प्रदेश में अगले 48 घंटों तक सक्रिय रहेगा। इस वजह से तापमान में तीन से पांच डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट भी आ सकती है। उन्होंने बताया कि राजस्थान के उत्तरी हिस्से में पश्चिमी विक्षोभ भी सक्रिय है। वहीं प्रदेश में बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से हवाओं के साथ नमी पहुंच रही है। यही कारण है कि राजस्थान में पिछले 24 घंटे से बारिश का दौर चल रहा है। जो आगे भी जारी रहेगा।

मौसम विभाग ने 18 जिलों जयपुर, टोंक, करौली, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, सवाईमाधोपुर, सीकर, झुंझुनूं, चूरू, नागौर, अजमेर, दौसा,अलवर, जोधपुर, बीकानेर, भरतपुर, धौलपुर, झालावाड़ और आसपास के क्षेत्रों में बादल गरजने, आकाशीय बिजली के साथ बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार अजमेर में 5.4, जयपुर में 44.8, पिलानी में 2.9, सीकर में 48, कोटा में 20.2, बीकानेर में 7, चूरू में 9.4, नागौर में 12.5, बूंदी में 23, बारां में 6.5, अलवर में 1.5, फतेहपुर में 1.5, करौली में 1.5 मिमी बारिश हुई। जबकि, अजमेर में 38.2, भीलवाड़ा में 36, वनस्थली (टोंक) में 37.2, जयपुर में 37.2, पिलानी में 38.4, सीकर में 36, कोटा में 37.2, उदयपुर में 36.4, बाड़मेर में 38.9, जैसलमेर में 38.4, जोधपुर में 38.2, बीकानेर में 38.4, चूरू में 32.6, श्रीगंगानगर में 29.6, धौलपुर में 32.9, नागौर में 38.7, बूंदी में 37.2, बारां में 39.9, डूंगरपुर में 37, हनुमानगढ़ में 29.5, जालोर में 39.2, सिरोही में 37.7, करौली में 36 एवं चित्तौड़गढ़ में 37.7 डिग्री अधिकतम तापमान रहा।

बीसलपुर बांध के निकटवर्ती जलभराव क्षेत्र में चार दिन से बारिश होने के कारण पानी की आवक शुरू हो गई है। रविवार दोपहर बाद हुई झमाझम बारिश के चलते बांध के गेज में सात सेमी पानी की बढ़ोतरी हुई है। बांध परियोजना के सहायक अभियंता प्रतीक चौधरी ने बताया कि बांध का गेज शनिवार सुबह 309.14 आरएल मीटर था, जो जयपुर अजमेर व टोंक जिले के साथ ही गांव-कस्बों में हो रही जलापूर्ति के बाद रविवार सुबह तक बांध का गेज बिना किसी घटत बढ़त के 309.14 आरएल मीटर पर स्थिर बना हुआ था। इसमें 8.43 टीएमसी पानी का कुल जलभराव था। रविवार दोपहर बांध क्षेत्र में हुई बारिश के चलते बांध के गेज में 7 सेमी की बढोतरी के साथ ही शाम चार बजे तक गेज 309.21 आरएल मीटर दर्ज किया गया है। पूर्व में बांध के गेज में जलापूर्ति के बाद प्रति 24 घंटे के दौरान दो से तीन सेमी की कमी हो रही थी।

Check Also

महिलाओं के शर्ट के बटन बाईं ओर और पुरुषों की शर्ट के बटन दाईं ओर क्यों होते हैं? जानिए इसके पीछे की वजह

दुनिया में हर दिन नई खोजें हो रही हैं। मनुष्य की जिज्ञासा, खोज और कड़ी मेहनत …