CLAT 2021:कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज ने जारी की परीक्षा की तारीख, 23 जुलाई को ऑफलाइन मोड में होगा लॉ एंट्रेंस एग्जाम

 

कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज (CNLU) ने कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (CLAT) 2021 के लिए नया शेड्यूल जारी कर दिया है। नए शेड्यूल के मुताबिक अब यह परीक्षा 23 जुलाई को ऑफलाइन मोड में आयोजित की जाएगी। इससे पहले यह परीक्षा 13 जून को आयोजित होने थी। लेकिन, कोरोना महामारी की दूसरी लहर के चलते परीक्षा स्थगित कर दी गई थी।

दो घंटे की होगी परीक्षा

परीक्षा के लिए कैंडिडेट्स को दो घंटे का समय दिया जाएगा। परीक्षा दोपहर 2 बजे से शुरू होगी और शाम चार बजे खत्म होगी। CLAT 2021 फिजिकल पेन- पेपर मोड में आयोजित होगी। आवेदन की आखिरी तारीख के बाद कैंडिडेट्स को एग्जाम सेंटर्स की प्रायोरिटी बदलने का मौका दिया जाएगा। एग्जाम कंडक्ट बॉडी टेस्ट सेंटर्स की फर्स्ट और सेकेंड वरीयता को एडजस्ट करने की कोशिश करेगी।

UG कोर्सेस के लिए परीक्षा पैटर्न

अंडरग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन के लिए परीक्षा 120 मिनट की होगी। परीक्षा में 150 मल्टीपल च्वाइस क्वेश्चन पूछे जाएंगे। यह सभी सवाल एक-एक अंक के होते हैं। गलत उत्तर देने पर 0.25 अंक की निगेटिव मार्किंग भी की जाती है। परीक्षा में पांच सब्जेक्ट से सवाल पूछे जाएंगे। इसमें इंग्लिश, सामान्य ज्ञान समेत करंट अफेयर्स, कानूनी तर्क, तार्किक तर्क और क्वांटिटिव टेक्निक शामिल हैं।

PG कोर्सेस के लिए परीक्षा पैटर्न

PG CLAT परीक्षा भी 120 मिनट यानी दो घंटे की होगी। इसके पहले सेक्शन में 1 मार्क के 100 ऑब्जेक्टिव टाइप क्वेश्चन पूछे जाएंगे। गलत आंसर देने पर 0.25 अंक की निगेटिव मार्किंग भी की जाएगी। दूसरे सेक्शन में कैंडिडेट्स को दो डिस्क्रिप्टिव निबंध लिखने होते हैं। हालांकि, जानकारी के मुताबिक इस बार CLAT 2021 में कोई डिस्क्रिप्टिव सेक्शन नहीं होगा।

नेशनल लेवल लॉ एंट्रेंस एग्जाम है CLAT

कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (CLAT) एक नेशनल लेवल लॉ एंट्रेंस एग्जाम है। यह 22 नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी (NLU) और कई अन्य CLAT संबद्ध लॉ कॉलेजों और यूनिवर्सिटी में ऑफर किए जाने वाले अंडर ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम्स में एडमिशन के लिए आयोजित की जाती है।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

भारत की सांस्कृतिक विरासत का दम, पोलैंड में Warsaw University की लाइब्रेरी की दीवार पर अंकित हैं उपनिषद के ग्रंथ

भारत की सांस्‍कृतिक विरासत पांच हजार से ज्यादा साल पुरानी है. भारतीय संस्‍कृति की विविधताओं …