मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालयों में स्कूल प्रबंधकों की नियुक्ति के लिए दूसरे चरण की प्रक्रिया शुरू

रांची, 05 फ़रवरी (हि.स.)।राज्य शिक्षा परियोजना द्वारा संचालित मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालयों में पठन पाठन और शिक्षण गतिविधियों के बेहतर प्रबंधन के लिए कुशल व दक्ष स्कूल प्रबंधकों की नियुक्ति की जा रही है। यह प्रबंधक अपने बेहतर संचार कौशल, प्रबंधन में दक्षता और प्रभावशीलता से स्कूल के संचालन की सभी पहलुओं की देखरेख करेंगे।

स्कूल प्रबंधक प्रशासनिक कार्यों के साथ-साथ स्कूल की सफलता के लिए स्कूल बोर्ड और समुदाय के प्रति जवाबदेह होंगे। शिक्षकों, अभिभावकों और छात्रों के बीच संचार और सहयोग को बेहतर बनाने में भी यह अपना योगदान सुनिश्चित करेंगे। प्रारंभिक चरण में सात मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालयों में 7 स्कूल प्रबंधकों की नियुक्ति कर ली गयी थी। अब दूसरे चरण में 73 पदों पर नियुक्तियों के लिए योग्य उम्मीदवारों से आवेदन मांगा गया है। राज्य शिक्षा परियोजना ने अधिसूचना जारी कर इन पदों पर नियुक्ति के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है।

स्कूल प्रबंधकों की नियुक्ति के लिए 73 में से 26 सीटें अनारक्षित वर्ग, 21 सीटें एसटी, आठ सीटें एससी, छह सीटें बीसी एक, पांच सीटें बीसी दो और सात सीटें आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के उम्मीदवारों के लिए निर्धारित हैं। इन पदों के लिए वैसे उम्मीदवार आवेदन कर सकते है, जो सेवानिवृत्त प्राचार्य हों, किसी भी केंद्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय, सीबीएससी और आईसीएससी स्कूल के उप प्राचार्य हों, सैन्य अधिकारी जो सशस्त्र बलों के अन्य विंग में कैप्टन या समकक्ष पद से नीचे के न हों, सशस्त्र बलों के शिक्षा कोर के अधिकारी शामिल हैं। इन पदों पर आवेदन की आखिरी तारीख 29 फरवरी है। राज्य शिक्षा परियोजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर उम्मीदवार इन पदों की विस्तृत जानकारी ले सकते हैं।

इन स्कूलों में नियुक्त हो चुके हैं विद्यालय प्रबंधक

टीवीएस मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालय जगन्नाथपुर, रांची, जिला मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालय बर्मामाइंस, जमशेदपुर, जिला मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालय धनबाद, जिला मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालय मेदिनीनगर, पलामू, बरियातू बालिका मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालय रांची, जिला मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालय चाईबासा, जिला मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालय, हजारीबाग।

राज्य में संचालित हैं 80 मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालय

वर्तमान में राज्य शिक्षा परियोजना द्वारा 80 मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालयों का संचालन किया जा रहा है। इन विद्यालयों में उत्कृष्ट शिक्षा सेवा और सुविधाएं बच्चों को दी जा रही हैं। इनमें 24 बालिका उत्कृष्ट विद्यालय, 24 कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय उत्कृष्ट विद्यालय, सात मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालय और 25 जिला मुख्यमंत्री उत्कृष्ट विद्यालय शामिल हैं।

विद्यालय प्रबंधकों की प्राथमिकताएं

छात्रों को सर्वोत्तम शिक्षण वातावरण प्रदान करना अथवा इन स्कूलों के बुनियादी ढांचे, रखरखाव पर नजर रखना इन प्रबंधकों की प्राथमिकता होगी। स्कूलों के आर्थिक कोष की देखभाल करना, यह सुनिश्चित करना कि सब कुछ सुचारू व बेहतर रूप से चले, स्कूल में अनुशासन सुनिश्चित करना और छात्रों के साथ-साथ शिक्षकों दोनों की सुरक्षा सुनिश्चित करना प्रबंधकों की जिम्मेदारी होगी। स्कूल में स्वछता, प्रतियोगिताओं, गतिविधियों, स्कूल यात्राओं और वनभोज, आदि के आयोजन का ध्यान स्कूल प्रबंधक को रखना होगा। शिक्षकों, अभिभावकों और छात्रों के बीच बेहतर समन्वय स्थापित करते हुए परस्पर संचार और सहयोग को बेहतर बनाना भी इन प्रबंधकों की जिम्मेदारी होगी।