मानवीय संवेदनाओं के साथ नागरिक कर्तव्यों का बेहतर निर्वहन करें : मुख्यमंत्री

जोधपुर, 03 फरवरी (हि.स.)। प्रदेश के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने कहा कि मानवीय संवेदनाओं के साथ नागरिक कर्तव्यों का बेहतर निर्वहन करते हुए सेवा एवं परोपकार के माध्यम से अपनी पहचान बनाएं। अभावों और समस्याओं से पीडि़तों और जरूरतमन्दों की हरसंभव सहायता करें और जन विश्वास पर खरे उतरने के लिए हमेशा प्रयत्नशील रहें। वे शनिवार को जोधपुर में आयोजित एम्स चिकित्सलय में दीक्षांत समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने एम्स के चौथे दीक्षान्त समारोह में उपाधि प्राप्त करने वाले सभी चिकित्सकों को बधाई दी और कहा कि मानवीय संवेदनाओं के साथ नागरिक कर्तव्यों का बेहतर निर्वहन करते हुए सेवा एवं परोपकार के माध्यम से अपनी पहचान बनाएं। अभावों और समस्याओं से पीडि़तों और जरूरतमन्दों की हरसंभव सहायता करें और जन विश्वास पर खरे उतरने के लिए हमेशा प्रयत्नशील रहें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि संकल्प पत्र में किए गए वादों को पूरा करते हुए राजस्थान के समग्र विकास और जन कल्याण में बेहतर कार्य किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में राजस्थान को अग्रणी बनाने के साथ ही आगामी 2047 तक भारत को विकसित राष्ट्र बनाने की दिशा में प्राण प्रण से जुटे हुए हैं।

शर्मा ने कोराना काल में एम्स जोधपुर द्वारा मुस्तैदी, तत्परता एवं समर्पित भाव से किए गए सेवा कार्यों की तारीफ की और इसे लिए एम्स के चिकित्सकों तथा सम्पूर्ण एम्स परिवार की सराहना की और अपनी ओर से आभार जताया। कोराना के समय पूरी दुनिया ने भारतवर्ष का लोहा माना।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश ने हर क्षेत्र में तरक्की का रिकार्ड कायम किया है। चिकित्सा, शिक्षा और बुनियादी सुख-सुविधाओं एवं सेवाओं के मामले में पहले के मुकाबले कई गुना बढ़ोतरी हुई है और जन-तन तक इन सेवाओं का लाभ पहुंचा है। ख़ासकर चिकित्सा क्षेत्र में ऐतिहासिक बढ़ोतरी हुई है। प्रदेश सरकार आने वाले दिनों में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में बहुत बड़े काम करेगी।

मुख्यमंत्री ने अधिकारों के साथ कर्तव्यों के प्रति भी जिम्मेदारी निभाने पर जोर दिया और कहा कि मानवीय मूल्यों और संवेदनाओं को सामने रखकर लोक सेवा का आदर्श स्थापित कर अपनी पहचान कायम करें। उन्होंने 241 करोड़ लागत के 70 कार्यों के लोकार्पण व शिलान्यास के लिए केन्द्रीय मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया का आभार जताते हुए प्रदेश सरकार की ओर से उनका अभिनन्दन किया।

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा, केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया एवं केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने शनिवार को एम्स के चौथे दीक्षांत समारोह में प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के अंतर्गत एसएमएस मेडिकल कॉलेज जयपुर के उन्नयन के तहत 200 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित सुपर स्पैशलिटी ब्लॉक को राष्ट्र को समर्पित किया।

समरोह में पीईटी-सीटी व एसपीईसीटी-सीटी, बीएसएल 3 लैब,प्रारंभिक हस्तक्षेप केंद्र,स्तनपान प्रबंधन केंद्र,हॉस्टल,गतिविधि केंद्र, प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र का उद्घाटन किया गया।