डिब्रूगढ़ में मुख्यमंत्री ने मंत्रियों के साथ किया योग

गुवाहाटी, 21 जून (हि.स.)। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर देश के अन्य हिस्सों की तरह असम में भी योग दिवस मनाया गया। हालांकि, राज्य के 33 जिले प्रलयंकारी बाढ़ से प्रभावित हैं। बावजूद इसके विभिन्न जिला मुख्यालयों, राजभवन, कामाख्या मंदिर, शिवसागर में योग कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

केंद्र सरकार के दिशा-निर्देश पर देश की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर मनाए जा रहे अमृत महोत्सव के मद्देनजर देश के 75 स्थानों पर भव्य रूप से योग दिवस का आयोजन किया गया। असम में केंद्रीय रूप से डिब्रूगढ़ में योग दिवस का आयोजन किया गया। इसमें मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा समेत अन्य कई मंत्रियों ने हिस्सा लिया।

मुख्यमंत्री ने योगाभ्यास करने के बाद फेसबुक पर एक संदेश पोस्ट करते हुए कहा कि गीता में भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन से कहा- मन को स्थिर नहीं कर पा रहे हैं तो योग अभ्यास से मुझे प्राप्त करने की इच्छा करो। योग भारतीय प्राचीन संस्कृति का अभिन्न अंग है। आज अंतराष्ट्रीय योग दिवस पर डिब्रूगढ़ जिले के चौकीडिंगी खेल मैदान में केंद्रीय रूप से योग का आयोजन किया गया।

मुख्यमंत्री ने योग कार्यक्रम आयोजकों का आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज दिवस समारोह की शुरुआत में हम उन लोगों को याद कर रहे हैं जो हाल ही में बाढ़ से प्रभावित विभिन्न आश्रय शिविरों में आश्रय ले रहे हैं, हम हमेशा उनके साथ खड़े हैं। उन्होंने कहा कि योग शरीर और आत्मा के सभी पहलुओं में स्वाभाविक रूप से उत्कृष्टता की एक शक्तिशाली प्रक्रिया है। मन और शरीर को संतुलित करना आध्यात्मिक रूप से सभी को सशक्त बनाना और सभी पहलुओं में सकारात्मक दृष्टिकोण बनाना है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नई पीढ़ी का स्वस्थ निर्माण नहीं होगा तो एक मजबूत राष्ट्र और मजबूत राज्य का निर्माण नहीं हो सकता है। इसके लिए युवा पीढ़ी का मानसिक और शारीरिक विकास करना चाहिए। तब जाकर विकास प्रक्रिया में तेजी लाई जा सकती है। वर्तमान समय में राज्य सरकार नशा मुक्त समाज के निर्माण के लिए नशा के खिलाफ लड़ाई में शामिल है। इसलिए माता-पिता को अपने बच्चों के सामने नियमित योग का अभ्यास करने के लिए प्रेरित करने आवश्यकता है।

कार्यक्रम में असम के मंत्री केशव महंत, बिमल बोरा, विधायक प्रशांत फुकन, चक्रधर गोगोई, तरंग गोगोई, पोनाकन बरुवा सहित अन्य लोगों ने हिस्सा लिया।

Check Also

महिलाओं के शर्ट के बटन बाईं ओर और पुरुषों की शर्ट के बटन दाईं ओर क्यों होते हैं? जानिए इसके पीछे की वजह

दुनिया में हर दिन नई खोजें हो रही हैं। मनुष्य की जिज्ञासा, खोज और कड़ी मेहनत …