मुख्यमंत्री ने बाढ़ प्रभावित सिलचर शहर का किया हवाई सर्वेक्षण

कछार (असम), 23 जून (हि.स.)। मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा ने गुरुवार को बाढ़ प्रभावित कछार जिला मुख्यालय शहर सिलचर का हवाई सर्वेक्षण किया। शहर में 2 लाख 30 हजार लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार बराक घाटी वासियों के साथ खड़ी है।

सिलचर खाद्य पदार्थों और आवश्यक वस्तुओं को हेलीकाप्टर के जरिए एयरड्रॉप किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने स्थानीय सांसद राजदीप रॉय, जिला उपायुक्त, एसपी के साथ सिलचर शहर की बाढ़ की स्थिति का जायजा लिया। बराक नदी के पानी में सिलचर शहर का अधिकांश हिस्सा डूबा हुआ है। शहर में तीन दिनों से नाव चल रही है।

मुख्यमंत्री ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के बाद प्रभावित लोगों के साथ बातचीत भी की। मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट कर यह जानकारी साझा की। उन्होंने बताया कि प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने में और तेजी लाने के लिए जिला प्रशासन संग स्थित की समीक्षा की है। शहर में आज हेलीकॉप्टर से खाद्य सामग्री, पानी की बोतलें और आवश्यक वस्तुओं वाले पैकेट मुहैया कराए गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाले दिनों में फंसे हुए लोगों के लिए इस तरह की एयर-ड्रॉपिंग सेवा जारी रखने की योजना भी बनाई जा रही है।

Check Also

चावल की खेती : अब बाढ़ के पानी में बचेगी धान की फसल, जानें ‘सह्याद्री पंचमुखी’ किस्म के बारे में

धान की बाढ़ प्रतिरोधी किस्म: वर्तमान में किसान विभिन्न संकटों का सामना कर रहे हैं। कभी असमानी तो कभी …