ऑस्‍ट्रेलियाई ड्रेसिंग रूम में ‘चेन्‍नई एक्‍सप्रेस’, जानें कौन है दोनों हाथ से गेंदबाजी करने वाले निवेथन राधाकृष्णन?

नई दिल्‍ली. अंडर 19 वर्ल्‍ड कप (Under-19 World Cup) का पहला मुकाबला भले ही मेजबान वेस्‍टइंडीज और ऑस्‍ट्रेलिया (West Indies vs Australia) के बीच खेला गया हो, मगर पहले ही मैच में भारतीय ऑलराउंडर का बोल बाला रहा. भारत के चेन्‍नई के रहने वाले निवेथन राधाकृष्णन (Nivethan Radhakrishnan) ने ऑस्‍ट्रेलिया की तरफ वेस्‍टइंडीज के खिलाफ कोहराम मचा दिया. राधाकृष्‍णन ने दोनों हाथ से गेंदबाजी की और 3 विकेट लेकर ऑस्‍ट्रेलिया की 6 विकेट से जीत में बड़ा योगदान दिया. राधाकृष्णन दाएं हाथ से ऑफ स्पिन और बाएं हाथ से स्पिन करवा सकते हैं.

वह दाएं हाथ से मध्‍यम गति की तेज गेंदबाजी भी करवा सकते हैं. वह बल्‍लेबाज भी है. उनकी इस कला ने ही उन्‍हें वंडर बॉय बना दिया है. 25 नवंबर 2002 को चेन्‍नई में जन्‍में राधाकृष्णन जब 10 साल के थे तो उनका परिवार सिडनी चला गया. उन्‍होंने 2017 और 2018 में तमिलनाडु प्रीमियर लीग में अपना कमाल दिखाया था.

पिता भी रह चुके हैं क्रिकेटर
2019 में वह ऑस्‍ट्रेलिया की अंडर 16 टीम की तरफ से पाकिस्‍तान के खिलाफ खेले. 2021 में वह आईपीएल की फ्रेंचाइजी दिल्‍ली कैपिटल्‍स के नेट गेंदबाज भी थे. राधाकृष्णन के पिता अंबु सेलवन तमिलनाडु की तरफ से जूनियर स्‍तर पर क्रिकेट खेल चुके हैं. 2013 में सिडनी जाने के बाद राधाकृष्णन ने न्‍यू साउथ वेल्‍स का प्रतिनिधित्‍व किया.

 

जब वो 6 साल के थे तब बाएं हाथ से स्पिन करते थे, फिर ऑफ स्पिन करने की भी कोशिश की. जरूरत पड़ने पर वो दाएं हाथ से मध्‍य गति की तेज गेंदबाजी भी कर सकते हैा. उन्‍होंने 8 साल की उम्र में तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन के लोअर डिवीजन लीग में हैट्रिक ली थी. इसके दो साल बाद वो सिडनी चले गए और फिर वहां पर न्‍यू साउथ वेल्‍स जूनियर की तरफ से ओपनिंग करते हुए नाबाद 193 रन की पारी खेलकर सबकी नजरों में आए.

Check Also

IND vs NZ: अंतिम वनडे में भी संजू सैमसन को मौका नहीं, न्यूजीलैंड टीम में एक बदलाव, देखें प्लेइंग XI

न्यूजीलैंड दौरे पर जा रही भारतीय टीम आज सीरीज का आखिरी वनडे मैच खेलेगी। बारिश ने टूर में …