Chanakya Niti: इन तीन बुरी आदतों से व्यक्ति जीवन में नहीं हो पाता है सफल, जानिए आज की चाणक्य नीति

Chanakya Niti Hindi: चाणक्य विलक्षण प्रतिभा के धनी थे. आचार्य चाणक्य एक शिक्षक होने के साथ साथ विभिन्न विषयों के जानकार और विशेषज्ञ भी थे. चाणक्य को अर्थशास्त्र का विशिष्ठ ज्ञान था. इतना नहीं चाणक्य को राजनीति शास्त्र, कूटनीति शास्त्र के साथ साथ समाजशास्त्र का भी विशेष ज्ञान था.

 

चाणक्य ने उन सभी विषयों का बहुत ही गहराई से अध्ययन और विश्लेषण किया था जो मनुष्य को प्रभावित करते हैं. चाणक्य ने पाया कि हर व्यक्ति जीवन में सफल होने के लिए प्रयास करता है. लेकिन सभी को सफलता नहीं मिलती है. उन्होंने समाज में सफल व्यक्तिओं का सूक्ष्मता से अध्ययन किया और पाया कि जीवन में सफलता उसी व्यक्ति को मिलती है जो बुराईयों से दूर रहता है और अपने लक्ष्य को लेकर निरंतर प्रयासरत रहता है. चाणक्य ने इन बुराईयों के बारे में बताया है. जिन्हे जानना सभी के लिए बहुत ही जरूरी है.

 

छल कपट से दूर रहने से सफलता जल्द प्राप्त होती है
आचार्य चाणक्य के अनुसार जो व्यक्ति छल और कपट से युक्त है और उसके सभी कार्य छल और कपट से पूर्ण हैं तो ऐसे व्यक्ति को सफलता नहीं मिलती है. भूलवस यदि सफलता मिल भी जाए तो इसकी उम्र लंबी नहीं होती है. इसलिए सफल होना होना है तो इन बुराईयों से दूरी बनाकर रखना चाहिए.

 

गलत संगत का त्याग करें
चाणक्य के अनुसार व्यक्ति कितनी ही प्रतिभाशाली और कुशल क्यों न हो, उसकी संगत यदि अच्छी नहीं है तो उसकी सफलता को लेकर सदैव संशय बना रहेगा. बुरी संगत व्यक्ति की सफलता में बाधा बनती है. बुरी संगत में रहकर व्यक्ति अपने कौशल का नाश करता है. बुरे लोग सदैव उसे अच्छा कार्य करने से रोकने का प्रयास करेंगे या फिर उसमें बाधा उत्पन्न करेंगे. इसलिए बुरी संगत से दूर ही रहना चाहिए.

 

किसी को धोख न दें
चाणक्य के अनुसार व्यक्ति को किसी के साथ विश्वासघात नहीं करना चाहिए. ये एक बुरी आदत है. धोखा देने वाले व्यक्ति को कोई भी विश्वास नहीं करता है और न ही ऐसे लोगों को समाज में सम्मान प्राप्त होता है. जब ऐसे लोगों की सच्चाई सामने आती है तो हर कोई इनकी निंदा करता है. यह आदत सफलता में सबसे बड़ी बाधा होती है.

Check Also

Rashi Parivartan 2020: दिवाली के दो दिन बाद सूर्य करेंगे राशि परिवर्तन, इन राशियों के लिए लाभ का योग

सूर्य दिवाली पर तुला राशि में रहेंगे औऱ इसके दो दिन बाद यह 16 नवंबर …