केंद्रीय तिब्बती प्रशासन चुनाव:अध्यक्ष पद के लिए अंतिम चरण की वोटिंग, पहले फेज में थे 8 उम्मीदवार; अब दो में है टक्कर

 

धर्मशाला में केंद्रीय तिब्बती प्रशासन के सिक्योंग/राष्ट्रपति पद के लिए मतदान करने पहुंचे समुदाय के गणमान्य। - Dainik Bhaskar

धर्मशाला में केंद्रीय तिब्बती प्रशासन के सिक्योंग/राष्ट्रपति पद के लिए मतदान करने पहुंचे समुदाय के गणमान्य।

केंद्रीय तिब्बती प्रशासन के सिक्योंग/राष्ट्रपति पद के लिए रविवार को अंतिम चरण का मतदान हुआ। इसी के साथ निर्वासित तिब्बती संसद के 45 सदस्यों के लिए भी वोटिंग हुई। हालांकि 26 देशों से वोटिंग का आंकड़ा कंपाइल होने में अभी एक-दो दिन का वक्त लग सकता है। खास बात यह है कि जहां पहले चरण में राष्ट्रपति पद के लिए 8 उम्मीदवार मैदान में थे, वहीं अब अंतिम चरण में मुकाबला दो के बीच ही है।

वोट डालने पहुंचे निर्वासित तिब्बती लोग।

वोट डालने पहुंचे निर्वासित तिब्बती लोग।

तिब्बत चुनाव आयोग के मुख्य चुनाव आयुक्त वांगडु टर्सिंग ने बताया कि लगभग 26 देशों में निर्वासित तिब्बती मताधिकार कर रहे हैं। इनकी कुल संख्या 83,079 है। अब दो तरह के चुनाव की प्रक्रिया चल रही है। एक केंद्रीय तिब्बती प्रशासन के राष्ट्रपति चुनाव के लिए है तो दूसरी वोटिंग 45 संसदीय सीटों के लिए हुई है। 45 संसदीय सीटों के लिए 95 उम्मीदवार हैं, जबकि अध्यक्ष के लिए पेन्पा त्सेरिंग और औकात्संग केलसांग दोर्जी दो ही उम्मीदवारों में टक्कर है।

टर्सिंग ने बताया कि पहले चरण के दौरान आठ उम्मीदवार थे। इसमें पेन्पा त्सेरिंग ने सबसे अधिक 24,488 मत हासिल किए और औकात्संग केलसांग दोरजी ने 14,544 मत हासिल किए। अब रविवार को अंतिम चरण का मतदान हुआ। इसके आधार पर 14 मई को परिणाम घोषित किए जाएंगे।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

दुनिया में सबसे ज्‍यादा टीकाकरण वाले देश सेशेल्‍स में दोगुने हुए कोरोना केस

विक्‍टोरिया  : दुनिया के सबसे ज्‍यादा कोरोना वैक्‍सीन लगाने वाले अफ्रीकी देश सेशेल्‍स में सात …