बच्चों में मोटापा बढ़ा सकता है हाई बीपी की समस्या, ऐसे करें मैनेज

children-

हमारी गलत खान-पान और अनियमित जीवनशैली के कारण बच्चों के साथ-साथ युवाओं में भी मोटापे की समस्या देखने को मिल रही है । कम उम्र में मोटापे का शिकार होना किसी बड़ी चिंता से कम नहीं है। आपको बता दें कि मोटापा बच्चों में मधुमेह, हृदय रोग और अस्थमा का कारण बन सकता है। हालाँकि, हम अपने खान-पान में सुधार करके अपने बच्चों को मोटापे से दूर रख सकते हैं। इस लेख में हम आपको अपने बच्चों को स्वस्थ रखने के लिए कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं।

स्वस्थ खाने की आदतें बनाएं

आपको बता दें कि ज्यादातर बच्चे वही खाते हैं जो उनके माता-पिता बाजार से लाते हैं। ध्यान रहे कि बाजार में खरीदे जाने वाले ज्यादातर खाद्य पदार्थों में वसा और चीनी की मात्रा अधिक होती है, जिससे मोटापा बढ़ता है। इसके अलावा शीतल पेय, फास्ट फूड और कैंडी भी मोटापे को बढ़ावा देते हैं। आपको घर में मिठाई सीमित रखनी चाहिए फास्ट फूड, फ्रोजन फूड, नमकीन स्नैक्स और पैकेज्ड फूड देने के बजाय बच्चों को ताजे फल या सब्जियां खाने को दें।

पारिवारिक गतिविधियों को बढ़ाएं

सबसे जरूरी है कि आप अपने घर में पारिवारिक गतिविधियों को बढ़ावा दें। इससे पूरा परिवार एक साथ एन्जॉय कर सकता है। इससे पारिवारिक संबंध भी बेहतर होते हैं। इसके अलावा बच्चों को शारीरिक गतिविधियों के लिए भी प्रेरित किया जा सकता है।तैरना या साइकिल चलाना बच्चों को सक्रिय रखने में मदद कर सकता है।

बच्चों का स्क्रीन टाइम कम करें

आपको यह जानकर भी हैरानी होगी कि जो बच्चे स्क्रीन पर ज्यादा समय बिताते हैं उनमें मोटापे का खतरा ज्यादा होता है। यह दावा किया जाता है कि जो बच्चे लंबे समय तक टीवी देखते हैं या कंप्यूटर गेम खेलते हैं, उनमें मोटापे का खतरा होता है। बता दें कि बहुत ज्यादा स्क्रीन टाइम बच्चों के पास फिजिकल एक्टिविटी के लिए समय ही नहीं छोड़ रहा है। इसलिए अपने बच्चों का स्क्रीन टाइम कम करना बहुत जरूरी है। स्क्रीन पर ज्यादा समय बिताने से भी आंखों पर बुरा असर पड़ता है।

Check Also

682627436ab62d40f0e97b51d9cb69331664191920186498_original

आलू रेसिपी: नरतन में आलू की तीन स्वादिष्ट रेसिपी, स्वाद के साथ मिलेगी ऊर्जा

व्रत के लिए आलू की रेसिपी:  व्रत के दौरान आलू खाने से शरीर को ऊर्जा मिलती …