क्या सर्दियों में डायबिटीज मरीज खा सकते हैं किशमिश? एक्सपर्ट ने इसके फायदे बताये

आम तौर पर डायबिटीज (Diabetes) के मरीजों के खानपान को लेकर लोग अकसर भ्रम में रहते है कि उन्हें क्या खाना चाहिए और किस चीज से उन्हें परहेज करना चाहिए। लेकिन सर्दियों में तो यह समस्या और भी गंभीर हो जाती है। डायबिटीज के मरीजों को यह ध्यान रखना होता है कि वे कुछ ऐसा न खा लें जिससे उनका शुगर लेवल बढ़ जाए और उन्हें मुसिबतों का सामना करना पड़े। इसके अलावा इन्हें अपने खाने के समय का भी ध्यान रखना होता है क्योंकि अगर खाने के टाइमिंग में गड़बड़ हो जाए तो इनकी हालत बिगड़ जाती है। अकसर ऐसा देखा गया है कि सर्दी में लोग किशमिश (Raisins) को खाना बहुत पसंद करते हैं। तो क्या इस किशमिश को डायबिटीज (Diabetes) के मरीज खा सकते हैं? यह सवाल उन सभी डायबिटीज (Diabetes) के मरीजों को काफी परेशान करता है जो किशमिश खाना चाहते हैं या उन्हें किशमिश काफी पसंद हैं। ऐसे में आज हम यह जानने की कोशिश करेगें कि क्या है किशमिश के फायदें (Benefits of Raisins) और क्या किशमिश को डायबिटीज (Diabetes) के मरीज खा सकते हैं?

इस पर बोलते हुए लखनऊ डाइट क्लीनिक के डाइटिशियन अश्वनी कुमार ने बताया कि आम तौर पर लोगों में यह गलत धारणा है कि डायबिटीज के रोगी किशमिश को नहीं खा सकते हैं क्योंकि इसका स्वाद मीठा होता और इन मरीजों को मीठा खाना सख्त मना होता है। लेकिन अश्वनी कुमार ने इस धारणा को गलत बताया और कहा कि बेशक डायबिटीज के रोगी किशमिश का सेवन कर सकते हैं। उन्होंने इस पर बोलते हुए कहा कि किशमिश ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाला फूड है जो कि शुगर को कंट्रोल करने में मदद करती है।

जानकारों का मानना है कि किशमिश आहार फाइबर से भरपूर होती है जो डायबिटीज के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसका यह फाइबर ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में भी मदद करती है। इसके अलावा यह मरीजों के पाचन में, पेट साफ करने और उनके एनर्जी लेवल के बैलेंस को भी बरकरार रखने में उनकी सहायता करता है।

अकसर लोगों को ऐसे ही किशमिश खाना बहुत पसंद है, लेकिन बहुत से लोग ऐसे हैं जो इसे अन्य सामान या भोजन में मिलाकर सेवन करते हैं। तो ऐसे में आप डायबिटीज के मरीज हो या आप आम आदमी हो, आप इसे अपने हिसाब से खा सकते हैं। किशमिश खाने के अलग-अलग तरीके नीचे बताए गए हैं, इनमें से आप किसी भी एक तरीके को फॉलो कर किशमिश का सेवन कर सकते हैं।

जी हां, किशमिश को सालाद के साथ मिलाकर खाने से आप हल्थी तो होइगा ही इससे आपका शरीर भी ठीक रहेगा। इसे आप पत्तेदार साग, कुरकुरे नट्स के साथ मिलाएं और अपनी पसंद की कोई भी सब्जी में डाल कर भी खा सकते हैं।

बहुत से लोग ऐसे हैं जो दलिया में किशमिश को मिलाकर खाना बहुत पसंद करते हैं। आप भी मुट्ठी भर किशमिश के एक कटोरी दलिया में मिलाकर खा सकते हैं। इससे आपका स्वास्थ भी ठीक रहेगा और खाने में स्वाद भी मिलेगा।

एक्सपर्टस का यह मानना है कि आप किशमिश को कभी भी खा सकते हैं। इसे किसी खास समय पर खाने का कोई कवायद नहीं है। इसलिए आप इसे किसी भी समय पर खा सकते हैं, लेकिन अगर आप नीचे बताए गए तरीके से इसे खाएंगे तो इससे आपको काफी फायदा मिलेगा।

किशमिश को खाने का सबसे सही समय सुबह का टाइम है। आप हर रोज सुबह में भीगे हुए किशमिश को खाने की आदत डालें, इससे आपका शरीर फिट रहेगा। आप लंच से पहले भी इसे अपने मिड-डे स्नैक के रुप में इस्तेमाल कर सकते हैं।

Check Also

कोरोना से बचना है तो न करें इन चीजों का सेवन, कमजोर हो जाएगी आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता

कोरोना काल में सबसे ज्यादा महत्व रोग प्रतिरोधक क्षमता को दिया गया है। जब से कोरोना …