रोज पिएं गुलाब की चाय, सेहत में होगा सुधार

रोज डे पर ज्यादातर गुलाब के फूल का इस्तेमाल किया जाता है। युवक और युवतियां एक-दूसरे के प्रति अपने प्यार का इजहार करने के लिए फूलों का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन यह फूल न केवल प्यार की भावनाओं को व्यक्त करने बल्कि स्वास्थ्य में सुधार के लिए भी उपयोगी साबित हो सकता है। गुलाब का इस्तेमाल हमारे पूर्वज भी करते थे, फर्क सिर्फ इतना है कि वे इसे औषधि के रूप में इस्तेमाल करते थे।

आज आप जानेंगे कि गुलाब का शर्बत और गुलकंद बनाने के अलावा गुलाब का इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है. गुलाब के फूल से एक खास तरह की चाय बनाई जा सकती है। इस चाय को पीने से होने वाले स्वास्थ्य लाभों के बारे में शायद आपने नहीं सोचा होगा। गुलाब की चाय पीने से न केवल वजन कम होता है बल्कि त्वचा में भी निखार आता है। इसके अलावा आइए आपको बताते हैं कि इस चाय को पीने से क्या-क्या फायदे होते हैं।

वजन घटता है

गुलाब के फूल में कई औषधीय गुण होते हैं। इसके सेवन से शरीर के कई रोग दूर हो जाते हैं। गुलाब के फूल के रेचक और मूत्रवर्धक गुण चयापचय को सामान्य करते हैं और पेट से विषाक्त पदार्थों को निकालते हैं।


पाचन तंत्र में सुधार होता है

गुलाब की चाय एक हर्बल चाय है जो पाचन में सुधार करती है। रोजाना एक या दो कप चाय पीने से वजन तेजी से कम होता बताया गया है। क्‍योंकि वजन घटाने में पाचन तंत्र अहम भूमिका निभाता है।

त्वचा के लिए

गुलाब की चाय एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर होती है। इसका सेवन करने से गर्मी, प्रदूषण के कारण चेहरे पर होने वाले दाग-धब्बे दूर हो जाते हैं। साथ ही इसका नियमित रूप से सेवन करने से मुंहासों की समस्या भी दूर हो जाती है। गुलाब का शीतलन प्रभाव होता है और त्वचा को चमक देता है।

विषाक्त पदार्थों को दूर करता है

गुलाब की चाय यूरिनरी ट्रैक्ट को इंफेक्शन से बचाती है। नियमित रूप से इसका सेवन करने वालों का शरीर विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में सक्षम होता है। गुलाब की चाय शरीर को डिटॉक्स करती है और शरीर को भीतर से साफ रखती है।

तनाव दूर करता है

मानसिक तनाव, थकान, अनिद्रा, बेचैनी और आलस्य से परेशान लोगों के लिए यह चाय अमृत के समान है। इस चाय को पीने से मानसिक तनाव दूर होता है क्योंकि इससे शरीर में रक्त संचार बेहतर होता है। इस चाय को पीने से आपका शरीर तरोताजा महसूस करेगा।

गुलाब की चाय कैसे बनाये

यूं तो रोज टी के रेडीमेड टी बैग्स बाजार में उपलब्ध हैं, लेकिन आप इसे घर पर भी इस तरह से बना सकते हैं। इसके लिए लाल गुलाब के ताजे पत्ते लें और उन्हें पानी में उबाल लें। 5 से 7 मिनट के बाद इसे छान लें और आवश्यकतानुसार शहद मिलाकर पिएं…

Check Also

High Cholesterol: हाई कोलेस्ट्रॉल की ये चेतावनी आपके चेहरे पर दिखती है, इसे बिल्कुल भी इग्नोर न करें

 उच्च कोलेस्ट्रॉल: शरीर में यकृत द्वारा निर्मित वसा को कोलेस्ट्रॉल या लिपिड कहा जाता है। शरीर के …