बोकारो कोर्ट का फैसला:रिश्ता शर्मसार करने वाले सौतेले मामा को 30 साल की जेल, एक लाख का जुर्माना भी; नाबालिग भांजी से किया था दुष्कर्म

 

कोर्ट ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म के आरोपी को 30 साल के सश्रम कारावास और एक लाख रुपए जुर्माना की सजा सुनाई। प्रतीकात्मक (फोटो) - Dainik Bhaskar

कोर्ट ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म के आरोपी को 30 साल के सश्रम कारावास और एक लाख रुपए जुर्माना की सजा सुनाई। प्रतीकात्मक (फोटो)

बोकारो के विशेष न्यायाधीश (पोक्सो) जनार्दन सिंह की अदालत ने बुधवार को 17 वर्षीय एक नाबालिग के साथ दुष्कर्म के आरोपी कमाल अंसारी उर्फ छुटू बाबू अंसारी (29) को 30 साल के सश्रम कारावास और एक लाख रुपए जुर्माना की सजा सुनाई। बीएस सिटी थाना क्षेत्र स्थित लकड़ीगोला, राजेंद्र नगर के रहने वाले आरोपी कमाल अंसारी ने रिश्ते में अपनी सौतेली भांजी को ही अपनी हवस का शिकार बनाया था। पोक्सो एक्ट में 30 साल की जेल और एक लाख जुर्माना के अलावा एक अन्य धारा के तहत उसे 3 वर्ष की जेल और 10 हजार रुपए का अर्थदंड भी सुनाया गया। दोनों सजाएं साथ-साथ चलेंगी।

मामले के विशेष लोक अभियोजक (पोक्सो) संजय कुमार झा ने बताया कि झारखंड हाईकोर्ट के विशेष आदेश पर इस पूरे मामले का फिजिकल ट्रायल चला। छह महीने के भीतर ट्रायल पूरा किया जाना था। 22 फरवरी 2021 को ट्रायल शुरू हुआ और 21 अगस्त 2021 को सुनवाई पूरी करने की अंतिम अवधि थी। इससे 15 दिन पहले ही मामले की सुनवाई पूरी कर ली गई। अभियोजन पक्ष से 9 गवाहों ने अपने बयान दिए।

लॉकडाउन में मुरादाबाद में फंस गए थे मां- बाप, इधर दो महीने तक मामा ने किया गलत काम
विशेष लोक अभियोजक के अनुसार आरोपी कमाल अंसारी उर्फ छुटू बाबू अंसारी ने अपनी भांजी के साथ लगातार दो महीने तक दुष्कर्म किया था। पीड़िता के मां-बाप उसकी रिश्तेदारी को लेकर उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में उसकी फूफी के घर गए थे। उसी दौरान लॉकडाउन लग गया और वे दोनों वहीं फंसे रह गए। इधर, चास मुफस्सिल थाना क्षेत्र स्थित एक गांव में अपने घर पर पीड़िता अपनी दो छोटी-छोटी बहनों के साथ अकेली पड़ गई। बच्चों को दिक्कत न हो, इसके लिए उसके मां-बाप ने कमाल अंसारी को उन्हें लकड़ीगोला स्थित अपने घर ले जाने को कहा। इसके लिए गांव पहुंचे उसके मामा ने वहीं छेड़खानी और अश्लील हरकतें शुरू कर दी। वह उसकी दोनों छोटी बहनों के साथ अपने घर लकड़ीगोला ले गया। वहां चाकू का भय दिखाकर उसके साथ गलत काम किया। पीड़िता ने उसके परिवारवालों को भी इसके बारे में बताया, लेकिन उनलोगों ने भी उसकी कोई मदद नहीं की।

बेहोशी की हालत में रेप का वीडियो बनाकर बार-बार करता रहा दुष्कर्म
पीड़िता ने अदालत में कहा कि उसके सौतेले मामा ने एक दिन उसे अकेला पाकर कोल्ड ड्रिंक में नशीली वस्तु डालकर उसे पिला दी और उसकी बेहोशी की हालत में दुष्कर्म करते हुए वीडियो बना लिया। उस वीडियो के बहाने बार-बार उसे ब्लैकमेल करते हुए वह लगातार मार्च से जून 2020 तक उसके साथ गलत काम करता रहा। हर बार वीडियो भी बनाया। इसके बारे में जब पीड़िता ने अपने पिता को बताया, तो वे लोग प्रवासी मजदूर की तरह यहां ट्रक पर सवार होकर जैसे-तैसे पहुंचे। कमाल अंसारी को बच्चों को उनके गांव वापस लाने को कहा। बच्चों को लेकर जब कमाल गांव आया तो उसके पिता ने गुस्से में उसके साथ मारपीट की। गांव वालों को भी इसके बारे में बताया। उन लोगों ने भी उसे पीटा और पुलिस के हवाले कर दिया था।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

लातेहार में JJMP और झारखंड जगुआर के बीच मुठभेड़:झारखंड जगुआर के सहायक कमांडेंट शहीद, सुरक्षाकर्मियों ने एक उग्रवादी को मार गिराया; मुठभेड़ स्थल से हथियार बरामद

  झारखंड जगुआर के जख्मी सहायक कमांडेंट को हेलिकॉप्टर की मदद से रांची स्थित मेडिका …