बेगूसराय : पानी में कीचड़ से लथपथ मिला तीन दिन से लापता चौकीदार का शव

बेगूसराय, 12 नवम्बर (हि.स.)। नौ नवम्बर की रात से लापता मंसूरचक थाना के चौकीदार (ग्रामीण पुलिस) घूरन महतो की हत्या हो गई है। शनिवार को चौकीदार घूरन महतो का शव उनके गांव सोहिलवाड़ा के नजदीक बहियार से बरामद किया गया है।

शव मिलने के बाद परिजनों में कोहराम मचा हुआ है, सूचना मिलते ही मंसूरचक थाना की पुलिस शव को कब्जे में लेकर मामले की छानबीन में जुट गई है। घटना के संबंध में परिजनों ने बताया की हत्या कर शव फेंका गया है। मंसूरचक थाना में कार्यरत चौकीदार घूरन महतो नौ नवम्बर को सिमरिया में मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में ड्यूटी करने गए थे।

वहां से करीब आठ बजे रात में घर लौटने के बाद खाना खाकर कुछ देर में लौटने की बात कहकर घर से निकले, लेकिन उसके बाद कुछ पता नहीं चल रहा था। शुक्रवार को बहियार के एक धान के खेत में लूंगी और कोट मिला था। इसके बाद शनिवार की सुबह सोहिलवाड़ा बहियार के चौर में ही पानी में कीचड़ से लथपथ शव मिला है। शव मिलने के बाद परिजन एवं पुलिस महकमा में हलचल मची हुई है।

थानाध्यक्ष ने बताया की बहियार के चोर के पानी में कीचड़ से लथपथ शव बरामद किया गया है। मामले की छानबीन चल रही है, जांच पड़ताल के बाद ही हत्या कैसे और क्यों हुई, इसका खुलासा हो सकेगा। इधर हत्या को लेकर गांव में तरह-तरह की चर्चा चल रही है।

कुछ लोगों का कहना है कि करीब 59 वर्षीय घूरन महतो काफी मिलनसार और शांत स्वभाव के थे, उनसे किसी की दुश्मनी जैसी कोई बात नहीं है। संभावना तो यह भी है कि किसी रिश्तेदारों द्वारा ही अनुकंपा के लोभ में इस घटना को अंजाम दिया गया हो। फिलहाल सब कुछ पुलिस के पाले में है और पुलिस अपने विभागीय सहयोगी के हत्याकांड का किस तरीके से और कब खुलासा कर पाती है, इसका सभी लोगों को इंतजार रहेगा।

Check Also

सिंगापुर में आज होगा लालू यादव का ऑपरेशन, बेटी रोहिणी डोनेट करेंगी किडनी, बिहार में हो रहा है गृह हवन-पूजन

राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव का किडनी ट्रांसप्लांट ऑपरेशन आज, सोमवार को सिंगापुर के …