नूंह हिंसा मामले में बिट्टू बजरंगी फरीदाबाद से गिरफ्तार

फरीदाबाद, 15 अगस्त (हि.स.)। नूंह हिंसा से चर्चा में आए बिट्टू बजरंगी को फरीदाबाद से गिरफ्तार कर लिया है। नूंह पुलिस ने बिट्टू को घर से ही पकड़ा। पुलिस सूत्रों के मुताबिक बिट्टू को सीआईए तावड़ू ने गिरफ्तार किया है।

नूंह पुलिस के प्रवक्ता कृष्ण कुमार ने बताया कि 31 जुलाई को नूंह में हुई हिंसा के बाद सदर थाने में आईपीसी की धारा 148,149, 332, 353, 186, 395, 397, 506 और आम्र्स एक्ट के तहत एसीपी उषा कुंडू की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया था। जिसके बाद पुलिस टीमों ने हिंसा से जुड़े वीडियो की जांच भी की। जिसके बाद उसे गिरफ्तार किया गया।

बिट्टू बजरंगी पर सरकारी काम में बाधा डालने, हथियार छीनने और पुलिस से मिसबिहेव करने का आरोप लगा है। नूंह में ब्रजमंडल यात्रा से पहले बिट्टू बजरंगी ने कई भडक़ाऊ वीडियो सोशल मीडिया पर डाले थे। जिस मामले में बिट्टू के खिलाफ केस भी दर्ज हुआ था। हालांकि उसे जमानत पर छोड़ दिया गया था।

इसके बाद से बिट्टू की गिरफ्तारी के लिए सोशल मीडिया पर मांग की जा रही थी। 31 जुलाई से पहले सोशल मीडिया पर बिट्टू बजरंगी का वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें बिट्टू ने कहा, उनको पूरी लोकेशन दे दो, मैं कहां-कहां आ रहा हूं। नहीं तो बाद में बोलेंगे, बताया नहीं कि हम आए और मुलाकात नहीं हुई। इसलिए हम पूरी लोकेशन दे रहे हैं। हमारे लिए फूल माला तैयार रखना। वीडियो के दौरान बिट्टू बजरंगी अपने समर्थकों को भी दिखाता है। बिट्टू बजरंगी कहता है कि वह इस वक्त फरीदाबाद के पाली में है।

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि बिट्टू का ये वीडियो हिंसा वाले दिन यानी 31 जुलाई की सुबह का है। नूंह में 31 जुलाई को ब्रजमंडल यात्रा निकाली जा रही थी। इसी दौरान तिरंगा चौक पर हिंसा शुरू हो गई। यहां यात्रा पर पथराव हुआ। दंगाईयों ने यात्रा में आए लोगों की गाडिय़ों से जमकर तोडफ़ोड़ की और आग लगा दी। इसके अलावा दुकानों में भी लूटपाट कर आग लगा दी गई। नूंह हिंसा का असर गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल, रेवाड़ी और पानीपत में हिंसक और तोडफ़ोड़ की घटनाएं हुईं। गौरतलब है कि हरियाणा के नूंह में 31 जुलाई को हुई हिंसा में अब तक कुल 393 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। वहीं 118 लोगों को एहतियातन हिरासत में लिया गया है। हिंसा के मामले में 160 एफआईआर दर्ज की गई हैं।