Bihar Election: चुनाव में नक्सलियों पर नकेल कसने खुद राइफल लेकर फील्ड में उतरे DIG मनु महाराज

मुंगेर: बिहार विधानसभा चुनाव को शांतिपूर्ण तरीके से निपटाने के लिए प्रशासन ने अपराधियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. इसी क्रम में मुंगेर के डीआईजी मनु महाराज चुनाव में नक्सली गतिविधियों पर रोक लगाने के लिए खुद राइफल लेकर फील्ड में उतर गए हैं. मनु महाराज इन दिनों नक्सलियों के गढ़ में कॉम्बिंग कर नक्सलियों को पकड़ने में जुटे हुए हैं. ताकि विधानसभा चुनाव के दौरान किसी तरह की आपराधिक घटना ना हो.

 

 

बता दें कि मुंगेर प्रमंडल में तीन नक्सल प्रभावित जिले हैं- मुंगेर, जमुई और लखीसराय. इस तीनों जिले में पहले चरण में वोटिंग होगी. ऐसे में नक्सल प्रभावित क्षेत्र में शांतिपूर्ण मतदान संपन्न कराने को लेकर प्रशासन ने भी पूरी तैयारी कर ली है. डीआईजी मनु महाराज नक्सलियों पर नकेल कसने के लिए खुद ही एके-47 राइफल उठाकर गश्ती कर रहे हैं.

 

इस संबंध में डीआईजी मनु महाराज ने बताया कि जिला पुलिस द्वारा चलाए गए अभियान में कई हार्डकोर नक्सलियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है, जिससे नक्सली फिलहाल बैकफुट पर चले गए हैं.

 

 

सूत्रों की मानें तो इस क्षेत्र में दूसरे राज्य से कई हार्डकोर नक्सली के आने की सूचना पुलिस को मिली है. ऐसे में पुलिस लगातार अभियान चला रही है. गुरिल्ला युद्ध में माहिर नक्सलियों को रोक कर रखना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती बन सकती है. 2014 लोकसभा चुनाव में मुंगेर के गंगटा में नक्सली हमला में दो जवान शहीद हुए थे, जिसको लेकर पुलिस काफी सतर्क होकर काम कर रही है.

 

नक्सल प्रभावित इलाकों में प्रशासन की सबसे बड़ी जिम्मेदारी लोगों को बूथों तक पहुंचाना और वोट प्रतिशत को बढ़ाना है. डीआईजी मनु महाराज ने बताया कि मुंगेर प्रमंडल के तीनों जिलों नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के लोगों से जनसम्पर्क बढ़ाया जा रहा है. उनमें मतदान के प्रति जागरूकता फैलाने का काम किया जा रहा है. ताकि मतदान के दिन वे बिना किसी डर के मतदान केन्द्रों तक पहुंच कर अपने मताधिकार का प्रयोग करें.

Check Also

घरेलू विवाद के बाद पत्नी के अश्लील फोटो वायरल कर रहा था युवक, सायबर सेल ने इंदौर से किया गिरफ्तार

जबलपुर की रहने वाली पीड़ित महिला ने दिसम्बर 2019 में मामले की शिकायत की थी- …