इस राज्य का बड़ा फैसला, अब सिर्फ वैक्सीनेटेड छात्रों की ही स्कूलों में होगी एंट्री

नई दिल्ली : कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से कई राज्यों में स्कूलों को बंद कर दिया गया है. वहीं, छात्रों में एंटीजन बॉडी विकसित की जा सके, इसलिए 15 से 18 वर्ष के छात्रों का टीकाकरण किया जा रहा है. सभी छात्र टीका लगवाएं इसलिए हरियाणा सरकार ने बड़ा फैसला लिया गया है.

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने शुक्रवार को कहा कि 15 से 18 वर्ष के जिन किशोरों का कोविड-19 टीकाकरण नहीं हुआ होगा, उन्हें स्कूल खुलने पर प्रवेश नहीं दिया जाएगा. अगर कोई छात्र किसी बीमारी के चलते वैक्सीन नहीं लगवा रहा है, तो उसे अलग से सर्टिफिकेट देना होगा.

वहीं, शिक्षा मंत्री ने अभिभावकों से भी अपील की है, कि वो अपने बच्चों का जल्द से जल्द टीकाकरण कराए, क्योंकि जब स्कूल खुलेंगे तो टीकाकरण नहीं कराये बच्चों को स्कूलों में प्रवेश नहीं दिया जाएगा.

आपको बता दें कि हरियाणा में 15-18 वर्ष की आयु के बीच के 15 लाख से अधिक किशोर कोविड टीका लगवाने के पात्र हैं. इस आयु वर्ग के लिए टीकाकरण 3 जनवरी 2022 से शुरू हो चुका है.

 

Check Also

Indian Army Rally 2022: यूपी, बिहार सहित अन्य राज्यों में इस माह से शुरू होगी रैली? जानें अपडेट

नई दिल्ली. भारतीय सेना (Indian Army) की तरफ से हर वर्ष हजारों पदों पर भर्ती के …