दिल्ली हाई कोर्ट से ‘आप’ नेताओं को बड़ा झटका, कहा- एलजी वीके सक्सेना के खिलाफ अश्लील पोस्ट हटाएं

27_09_2022-27_09_2022-delhi_lg_vk_saxena_23101635_9140112

नई दिल्ली: दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार को आम आदमी पार्टी के नेताओं को बड़ा झटका दिया है. हाईकोर्ट ने ‘आप’ नेताओं से दिल्ली के उपराज्यपाल के खिलाफ अश्लील पोस्ट हटाने को कहा है।

न्यूज एजेंसी एएनआई से मिली जानकारी के मुताबिक हाईकोर्ट ने दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना के पक्ष में अंतरिम आदेश दिया है. हाईकोर्ट ने आम आदमी पार्टी के नेताओं को दिल्ली के उपराज्यपाल के खिलाफ कथित अश्लील पोस्ट हटाने का निर्देश दिया है.

उल्लेखनीय है कि दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने संजय सिंह, सौरभ भारद्वाज, आतिशी समेत आम आदमी पार्टी के कई दिग्गज नेताओं के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया था. मानहानि मामले में एलजी की ओर से दायर अपील पर हाईकोर्ट ने आज अंतरिम आदेश दिया है.

कोर्ट ने आप नेताओं से एलजी विनय कुमार सक्सेना के खिलाफ सोशल मीडिया पर अश्लील पोस्ट हटाने को कहा। अदालत ने इससे पहले 22 सितंबर को इस मामले में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था।

स्पष्टीकरण देने से इंकार

मानहानि का मामला दर्ज करने से पहले एलजी विनय कुमार सक्सेना ने आप नेताओं को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा था, लेकिन आम आदमी पार्टी के नेताओं ने इनकार कर दिया.

क्या है भाई?

दिल्ली के आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह, सौरभ भारद्वाज, आतिशी ने उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना पर नोटबंदी के दौरान 1400 करोड़ रुपये ठगने का आरोप लगाया।

एलजी पर धोखाधड़ी का आरोप

आम आदमी पार्टी के नेताओं ने भी एलजी पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए उनका विरोध किया। राजेंद्र नगर सीट से आप विधायक दुर्गेश पाठक ने एलजी को ‘भ्रष्ट’ बताया और उनके खिलाफ सीबीआई और ईडी जांच की मांग की. वहीं आप नेताओं ने पहले सदन के अंदर और फिर बाहर हाथों में पोस्टर-बैनर लेकर विरोध प्रदर्शन किया।

Check Also

MCD चुनाव नतीजों पर बोले सांसद संजय सिंह, आप ने तोड़ा बीजेपी का 15 साल पुराना किला

4 दिसंबर को हुए दिल्ली नगर निगम चुनाव के नतीजे आज आने शुरू हो गए …