पंजाब चुनाव से पहले मुश्किल में नवजोत सिंह सिद्धू, सलाहकार मुस्तफा के खिलाफ FIR; लगा था ये आरोप

चंडीगढ़: पंजाब (Punjab) में कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के सलाहकार मोहम्मद मुस्तफा (Mohammad Mustafa) के खिलाफ FIR दर्ज की गई है. मुस्तफा पर धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप था.

विपक्ष के नेताओं ने लगाई थी फटकार

आपको बता दें कि मुस्तफा के भाषण का वीडियो के वायरल होने के बाद बीजेपी (BJP) और आम आदमी पार्टी (AAP) लगातार उन पर हमलावर थी. मुस्तफा ने अपने भाषण में अल्लाह की कसम खाते हुए बड़े-बड़े बोल बोले थे.

हिंदुओं को जलसे की इजाजत दी तो….

बीजेपी की राष्ट्रीय प्रवक्ता इल्मी ने आरोप लगाया कि मुस्तफा ने अपने बयान में ‘हिंदू’ शब्द का इस्तेमाल किया. मुस्तफा की पत्नी रजिया सुल्ताना, मालेरकोटला विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस की प्रत्याशी हैं. मालेरकोटला, पंजाब में एक मुस्लिम बहुल जिला है. बीजेपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में वीडियो क्लिप दिखाया, जिसमें मुस्तफा 20 जनवरी को मालेरकोटला में एक जनसभा में यह कहते हुए सुने जा सकते हैं, ‘मैं अल्लाह की कसम खाता हूं कि मैं उन्हें कोई कार्यक्रम नहीं करने दूंगा. मैं ‘कौमी फौजी’ हूं…मैं RSS का एजेंट नहीं हूं जो डर के मारे घर में छिप जाएगा.’ उन्होंने कथित रूप से वीडियो में कहा, ‘अगर वे फिर से ऐसा करने का प्रयास करेंगे तो मैं अल्लाह की कसम खाता हूं कि मैं उन्हें उनके घर में पीटूंगा.’

FIR

बीजेपी ने दिखाया वीडियो

 

मुस्तफा ने अपनी सफाई में क्या कहा?

हालांकि मुस्तफा ने ‘हिंदू’ शब्द का इस्तेमाल करने से इनकार किया है. मुस्तफा ने कहा कि मैंने बस आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया था क्योंकि उनमें से कुछ ने उनका पीछा किया था और उनके साथ दुर्व्यवहार करने का प्रयास किया था.

हाई प्रोफाइल शख्स हैं मुस्तफा

जब देश के जिम्मेदार पदों पर बैठ चुका शख्स ऐसी बातें करता है तो उस पर सवाल खड़े होना लाजिमी हो जाता है. आपको बता दें कि मोहम्मद मुस्तफा कोई साधारण आदमी नहीं हैं. वो पुलिस महकमें में बड़े अधिकारी रह चुके हैं.

Check Also

टीवी अभिनेता की गोली मारकर हत्या, 10 वर्षीय भतीजा कश्मीर के बडगाम में आतंकवादियों द्वारा घायल, क्षेत्र की घेराबंदी

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले में बुधवार को आतंकवादियों ने 35 वर्षीय एक महिला की …