सावधान रहें, खाने की ये आदतें आपके पेट की सेहत को पहुंचा सकती हैं नुकसान

रेशा

कम फाइबर वाला खाना खाना

फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थ खाने से आपके मल त्याग को नियमित करने में मदद मिलेगी। नहीं तो कई समस्याएं होने की संभावना रहती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि आंत प्रणाली कई रोगाणुओं और रोग पैदा करने वाले रोगजनकों के लिए प्रजनन स्थल है। इसलिए फाइबर की मात्रा अधिक लें। तभी आपका पेट स्वस्थ रहेगा। 

पर्याप्त पानी नहीं पीना

पानी को तमाम बीमारियों की दवा कहा जा सकता है। क्‍योंकि अगर हमारे शरीर में पानी की मात्रा पर्याप्‍त नहीं होगी तो कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याएं हो सकती हैं। इसलिए हेल्थ एक्सपर्ट कहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं। दिन में कम पानी पीने से न केवल आपके शरीर में पानी की कमी हो जाती है बल्कि भोजन के बाद आपकी पाचन प्रक्रिया भी प्रभावित होती है। क्या आप जानते हैं.. डिहाइड्रेशन आपकी जान भी ले सकता है। इसलिए रोजाना 8 से 10 गिलास पानी पिएं।

 

बहुत अधिक चीनी का सेवन

मीठा खाने में भले ही स्वादिष्ट लगे, लेकिन चीनी हमारे स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल भी अच्छी नहीं है। चीनी सामग्री का अधिक सेवन आंत माइक्रोबायोम को बाधित करता है। हमारा शरीर कभी-कभी अतिभारित शर्करा को संसाधित करने में विफल रहता है। इसलिए चीनी की मात्रा अधिक न लें।

अनाज नहीं खाना

अनाज कई तरह से हमारे स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है। इन्हें खाने से आंत के माइक्रोबायोम को संतुलित करने में मदद मिलती है। आंत स्वस्थ है। इसलिए जो लोग इन्हें नहीं खाते हैं, उन्हें अब इन्हें खाने की आदत डाल लेनी चाहिए। 

उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करना

ज्यादा फैट वाला खाना सेहत के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं होता है। इन्हें खाने से पाचन क्रिया धीमी हो जाती है। साथ ही कोलन कैंसर का खतरा भी बढ़ जाता है। वसायुक्त भोजन भी अपच और सूजन जैसी समस्याओं का कारण बनता है। 

 

जब भी संभव हो भोजन करना

यहां तक ​​कि अगर आप जब भी भूख लगे बिना खाने का समय निकाले खा लेते हैं तो इससे आपके पाचन पर बुरा असर पड़ता है। हड़बड़ी में खाना, खासतौर पर रात में खाना और ठीक से चबाकर न खाना भी आंत के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है। 

अत्यधिक शराब पीना

शराब किसी भी रूप में हो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। उनमें से कुछ खुराक से अधिक लेते हैं। शोधकर्ताओं का कहना है कि बहुत अधिक शराब पीने से गट सिस्टम खतरे में पड़ सकता है। 

पर्याप्त प्रोबायोटिक्स नहीं

किण्वित खाद्य पदार्थ प्रोबायोटिक्स से भरपूर होते हैं। इन चीजों के सेवन से हमारी सेहत खराब होती है। आपको कई फायदे भी मिलेंगे। किण्वित खाद्य पदार्थों में अच्छे बैक्टीरिया होते हैं जो पाचन को गति देते हैं।

गैर-मौसमी खाद्य पदार्थ खाना

कुछ लोग इस मौसम में न उगाने पर भी सब्जियां उगाते हैं। इसके लिए वे कई तरह के उर्वरकों और कीटनाशकों का इस्तेमाल करते हैं। ये हमारी सेहत के लिए बिल्कुल भी अच्छे नहीं होते हैं। ऐसी चीजें न खाना ही बेहतर है। मौसमी, प्राकृतिक रूप से उगाए गए फल और सब्जियां ही खाएं।

Check Also

विंटर केयर: सर्दियों में घर पर ही बनाएं नाइट क्रीम…त्वचा रहेगी रूखी

विंटर केयर: सर्दियों में सबसे ज्यादा नुकसान त्वचा को होता है, बाहर की हवा में एक …