Axis Bank में है अकाउंट तो तुरंत इस अलर्ट के बारे में जान लें, नहीं तो फेल होता रहेगा आपका पेमेंट

हाल ही में देश के 10 सरकारी बैंकों का विलय हुआ है. विलय प्रक्रिया पूरा होने के साथ ही इन बैंकों के ग्राहकों के लिए कई तरह के बदलाव हुए हैं. ग्राहकों के पासबुक से लेकर IFSC कोड तक में बदलाव हुआ है. ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया को पंजाब नेशनल बैंक में विलय कर दिया गया है. इसके बाद अब पहले के दोनों बैंकों को सभी कामकाज PNB के अंतर्गत होगा. OBC और यूनाइटेड बैंक को लेकर एक्सिस बैंक ने अपने ग्राहकों को एक खास अलर्ट जारी किया है.

दरअसल, पंजाब नेशनल बैंक में इन दोनों बैंकों के विलय के बाद ग्राहकों को भी कई तरह के बदलाव से गुजरना पड़ रहा है. इन्‍हीं में से एक है कि ग्राहक पेमेंट के लिए अपने मौजूदा बेनिफिशियरी में बदलाव करें. चूंकि मर्जर के बाद OBC और यूनाइटेड बैंक का IFSC कोड बदल गया है, ऐसे में एक्सिस बैंक के ग्राहकों को इन दोनों बैंकों के बेनिफिशियरी को डीलीट कर फिर से जोड़ना होगा.

नये IFSC के साथ दोबारा रजिस्‍टर करने होंगे बेनिफिशियरी

जब तक इन पुराने बेनिफिशियरी को नये IFSC के साथ दोबारा नहीं रजिस्‍टर किया जाएगा, तब इन एक्सिस बैंक के किसी भी डिजिटल चैनल से इन्‍हें पेमेंट नहीं किया जा सकेगा. एक्सिस बैंक ने अपने ग्राहकों को इस बारे में जानकारी देते हुए इसे प्रोसेस को पूरा करने को कहा है, ताकि भविष्‍य में उनका पेमेंट फेल न हो सके.

मर्जर के बाद दोनों बैंकों की ये जानकारियां बदल गई हैं

भारतीय स्‍टेट बैंक ने अपने ग्राहको को पहले इस बारे में अलर्ट जारी किया था. पंजाब नेशनल बैंक ने भी पहले एक ट्वीट जारी कर कहा था कि ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के ग्राहकों को यूजर आईडी बदल गया है. विलय के बाद 01 अप्रैल से इन दोनों बैंकों को MICR Code और IFSC भी बदल गया है.

एक्सिस बैंक में बेनिफिशियरी कैसे ऐड करें?

  • इसके लिए सबसे पहले आपको एक्सिस बैंक इंटरनेट बैंकिंग पोर्टल या मोबाइल ऐप को खोलना होगा.
  • अगले स्‍टपे में ‘Transfer Funds’ के विकल्‍प को चुनें.
  • इसके बाद ‘Other Bank Account’, ‘Transfer Funds’ और ‘Register New Beneficiary’ को चुनें.
  • इसके बाद आपको बेनिफिशियरी का नाम, आकउंट नंबर, IFSC कोड डालना होगा.
  • अगले स्‍टेप में इन जानकारियों को कफंर्म करने के बाद लॉगिन आईडी और ट्रांजैक्‍शन पासवर्ड की मदद से इसे ऑथेन्टिकेट करना होगा.
  • बेनिफिशियरी को एक्टिवेट करने के लिए रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर के एक ओटीपी भी वेरिफाई करनी होगी.

बता दें कि एक्सिस बैंक ग्राहक एक दिन में केवल तीन ही बेनिफिशियरी को ऐड कर सकते हैं. नये बेनिफिशियरी को ऐड करने के 30 मिनट बाद ही आप कोई ट्रांजैक्‍शन कर पाएंगे.

Check Also

क्या आपका स्मार्टफोन भी गर्म होता है…ये टिप्स अपनाइए कभी गर्म नहीं होगा फोन

आज के जमाने में स्मार्टफोन तो सभी इस्तेमाल करते हैं और इन फोन्स में काफी तरह की …