एस्ट्रो योग: अपनी राशि के अनुसार चुनें योग का सही प्रकार

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022: योग न केवल हमें शारीरिक रूप से फिट रहने में मदद करता है, यह शांत और शांत रहने और एक अच्छे मानसिक स्थान में भी मदद करता है। यदि आप अपनी योग यात्रा को शुरू करने के लिए पर्याप्त रूप से प्रेरित हैं, तो हम आपकी सहायता के लिए यहां हैं। क्या आप जानते हैं कि योगा जर्नल के अनुसार, अपने योग अभ्यास को ज्योतिष के साथ जोड़कर, आपकी आंतरिक और बाहरी दुनिया संरेखित और एकीकृत होने लगती है ।

सेलिब्रिटी लाइफस्टाइल कोच नौशिना शेख ने फेमिना को बताया कि आपकी राशि के लिए कौन से योग आसन सबसे अच्छा काम करते हैं। 

  • मेष: नवासना (नाव मुद्रा)

मेष एक अग्नि चिन्ह है और नवासन इस राशि की तीव्रता के स्तर से मेल खाता है क्योंकि यह सौर जाल को प्रभावित करता है। यह योगासन आपके कोर को मजबूत बनाने में मदद करता है। 

  • Taurus: Vrikshasana (Tree Pose)

वृष एक पृथ्वी तत्व है, जिसे ग्राउंडिंग और उपचार की आवश्यकता है। वृक्षासन या वृक्ष मुद्रा धैर्य बढ़ाने में मदद करती है। यह लोगों को जड़, आराम और आराम से रहने में मदद करता है।

  • मिथुन: गरुड़ासन (ईगल पोज)

मिथुन एक वायु तत्व है और इसके लिए गरुड़ासन की सिफारिश की जाती है क्योंकि यह उनकी स्थिरता को लाभ पहुंचाने में मदद करता है। नौशीना ने फेमिना से कहा, ‘आसन शारीरिक और मानसिक ऊर्जा को रचनात्मक तरीके से प्रसारित करने में मदद करते हैं।’

  • कर्क: बालासन (बच्चे की मुद्रा)

कर्क एक जल चिन्ह है और शेख बालासन या बच्चे की मुद्रा के अनुसार लोगों को शांत करने और आराम करने में मदद करता है।

  • सिंह: सलम्बा भुजंगासन (स्फिंक्स मुद्रा)

यह एक अग्नि चिन्ह है और जोश और ऊर्जा से भरा है। अपनी ऊर्जा को बहाल करने के लिए उन्हें बस एक साधारण बैकबेंड की जरूरत है। स्फिंक्स मुद्रा मांसपेशियों और अन्य अंगों को आराम देने में मदद करती है।

  • Virgo: Utkata Konasana (Goddess Pose)

कन्या भी पृथ्वी तत्व है। शेख ने कहा कि वे प्रकृति के साथ घूमना पसंद करते हैं। उनके लिए, एक देवी मुद्रा उन्हें जमीन से जुड़े, प्यार करने वाले और शक्तिशाली रहने में मदद करेगी।

  • तुला: अर्ध चंद्रासन (आधा चंद्र मुद्रा)

वायु तत्व होने के कारण तुला राशि संतुलित सभी चीजों का स्वामी है। अर्धचंद्राकार मुद्रा को शामिल करने से तुला राशि संतुलन की शक्ति प्राप्त कर सकती है। शेख का कहना है कि तुला राशि के लिए सभी संतुलन मुद्राएं सही हैं, लेकिन अर्ध-चंद्र मुद्रा तुला राशि के लिए बहुत अच्छी है क्योंकि इसका गुरुत्वाकर्षण हृदय को खोलते हुए हर दिशा में परिभाषित और फैलता है।

  • वृश्चिक: शलभासन (टिड्डी मुद्रा)

यह एक जल चिन्ह है, जो शांत और सरल है, शेख कहते हैं। योग आसन रीढ़, टेलबोन, पेल्विक, कोर और पैरों को मजबूत बनाने में मदद करते हैं।

  • Sagittarius: Viparita Virabhadrasana II (Reverse Warrior II)

अग्नि चिन्ह होने के कारण, राशि एक धनुर्धर है जो हमेशा आशाओं, सपनों, आशावाद, आनंद और भक्ति पर तीर चलाता है। शेख कहते हैं कि रिवर्स वॉरियर आपके लिए एकदम सही पोज़ है क्योंकि यह आपको ग्राउंडेड और फोकस्ड रहने में मदद करता है।

  • मकर: ताड़ासन (पर्वत मुद्रा)

मकर एक पृथ्वी तत्व है और इसकी ऊर्जा प्रकृति से प्रेरित है। आपको माउंटेन पोज़ पर विचार करना चाहिए क्योंकि यह ग्राउंडिंग और फ़ोरम की भावना को स्थापित करने में मदद कर सकता है।

  • Aquarius: Urdhva Dhanurasana (Upward-Facing Wheel)

यह एक ऐसा तत्व है जो सरल, प्रेरक और कल्पनाशील है। शेख ने कहा, ‘अपवर्ड फेसिंग व्हील पोज़ एक दिल खोल देने वाला एनर्जाइज़र है, जो आपको सपने देखने, प्रेरणा देने और एक बेहतर दुनिया बनाने के लिए बढ़ावा देता है।

  • मीन: मत्स्यासन (मछली मुद्रा)

यह जल तत्व है और इस राशि के लिए मछली की मुद्रा सबसे स्वाभाविक पसंद है। शेख कहते हैं, “आपकी भावनाएँ इतनी गहरी और तीव्र हैं, कि फिश पोज़ आपके दिल और गले, इरादे और सच्चाई के स्थान को खोलने में मदद करता है और उन भावनाओं को शारीरिक रूप से संतुलित करने में मदद करता है।”

Check Also

कभी देखा है उर्वशी रौते का लग्जरी लुक? अगर आपका जवाब नहीं है तो देखिए ये तस्वीरें…

मुंबई: बॉलीवुड एक्ट्रेस उर्वशी रौटेल की गिनती खूबसूरत अभिनेत्रियों की लिस्ट में होती है. उर्वशी अपनी खूबसूरती …