ASI नहीं निभाई ड‌्यूटी, सस्पेंड:अस्पताल से घर आ गई छात्रा पर चेहरे और सिर में बने घाव दरिंदे को भूलने नहीं देते, छेड़छाड़ का विरोध करने पर बालकनी से फेंक दिया था

प्रतीकात्मक फोटो- घटना के 10 दिन बाद हुआ था मामला दर्ज, लापरवाही पर ASI को किया सस्पेंड - Dainik Bhaskar

प्रतीकात्मक फोटो- घटना के 10 दिन बाद हुआ था मामला दर्ज, लापरवाही पर ASI को किया सस्पेंड

  • 4 फरवरी को हुई थी छेड़छाड़ और छत से फेंकने की घटना
  • आरोपी भी पकड़ा गया है

चेहरे और सिर पर चोट के घाव और टांके के निशान जिंदगी भर उस दिन की याद दिलाते रहेंगे, जब उस दरिंदे ने मुझे छत से नीचे फेंका था। वो दिन मैं कभी नहीं भूल सकती। यह दर्द है 16 वर्षीय छात्रा का। उसे एक दरिंदे ने छेड़छाड़ का विराेध करने पर छत से नीचे फेंक दिया था। इस मामले में 10 दिन बाद FIR हुई थी। 7 दिन छात्रा अस्पताल में भर्ती रही। अस्पताल से सूचना थाना दी गई, लेकिन एक ASI ने ड्यूटी में गंभीरता नहीं दिखाई थी। इस मामले में एसपी ग्वालियर ने ASI शारदा प्रसाद को सस्पेंड कर दिया है। आरोपी भी पकड़ा गया है, लेकिन छात्रा के दिल और दिमाग पर जो घाव लगे हैं उनको आसानी से भरा नहीं जा सकता है।

यह था पूरा मामला

विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र में 16 वर्षीय 11वीं की छात्रा रहती है। छात्रा के पास फ्लैट में हिम्मत उर्फ छोटू भदौरिया रहता है। 4 फरवरी की शाम 6.30 बजे छोटू ने छात्रा को किसी काम से अपने फ्लैट के दरवाजे पर बुलाया। छोटू के घर पर कोई नहीं था। अभी छात्रा कुछ समझ पाती तभी छोटू ने उसे जबरन अपने फ्लैट में ले गया। वह छात्रा के साथ छेड़छाड़ करने लगा, जब छात्रा ने भागने का प्रयास किया तो आरोपी ने उसे बालकनी से नीचे फेंक दिया। छात्रा पीछे की तरफ करीब 20 फीट नीचे पत्थरों पर गिरी और बेहोश हो गई। कुछ देर बाद जब लोगों की नजर उस पर पड़ी तो उसे तत्काल पास ही प्राइम हॉस्पिटल में भर्ती कराया। 14 फरवरी को इस मामले में थाना में आरोपी छोटू भदौरिया के खिलाफ मारपीट, छेड़छाड़ व जान से मारने के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया है।

लापरवाही पर ASI को किया सस्पेंड
इस मामले में जब एसपी ग्वालियर को पता लगा कि घटना के बाद जब तत्काल अस्पताल से घटना की तहरीर (सूचना) थाना पर आई तो वहां ड्यूटी इंचार्ज ASI शारदा प्रसाद थे। पर उन्होंने अपनी ड्यूटी ईमानदारी से नहीं निभाई। उनको चाहिए था वह मौके पर पहुंचकर स्थिति संभालते और मामला दर्ज करवाते,लेकिन उन्होंने ऐसा न करते हुए लापरवाही का परिचय दिया। इस पर एसपी ने शनिवार को एसआई को सस्पेंड करने के आदेश जारी कर दिए हैं।

पल-पल छेड़छाड़ का दर्द सह रही पीड़ित छात्रा
छेड़छाड़ हुई 10 दिन बाद मामला दर्ज हुआ और कार्रवाई न करने वाला एएसआई भी सस्पेंड हो गया, लेकिन इस मामले में क्या पीड़ित छात्रा का दर्द कम होगा। छात्रा को जब छत से फेंका तो उसके सिर, कान, व कंधे में गंभीर चोट लगी थी। छात्रा के सिर में 8 टांके आए हैं और कान में 2 टांके लगे हैं। कंधे की हड्‌डी टूटी हुई है। जब छात्रा से बात करना चाही तो वह दहशत में थी। इतना ही कहा कि कभी नहीं भूल पाएगी वो दिन। इसलिए वह अभी किसी से भी बात नहीं कर रही है।

 

Check Also

खेसारी के इस गाने ने इंटरनेट पर मचाया धमाल, केवल आठ घंटे में मिले 5 लाख व्यूज

भोजपुरी सिनेमा के सुपरस्टार खेसारी लाल यादव (Khesari Lal Yadav) का नया होली गाना रिलीज …