मैदान पर अंपायर के साथ अश्विन की झड़प ने सोशल मीडिया पर हलचल मचा दी

भारत के दिग्गज ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के पहले दिन के खेल के अंत में ऑन-फील्ड अंपायर माराइस इरास्मस के साथ बहस करते देखा गया। रविचंद्रन अश्विन का यह वीडियो सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन गया. समझा जाता है कि दिन के आखिरी ओवरों के दौरान अश्विन मैच में नाबाद शतक बनाने वाले यशस्वी जयसवाल के साथ लंबी बातचीत कर रहे थे और अनुभवी जिम्बाब्वे अंपायर ने उन्हें रोक दिया।

अश्विन को मैदान के बीच में अंपायर से बहस करते देखा गया

जयसवाल की नाबाद 179 रनों की पारी के दम पर भारत ने स्टंप्स तक छह विकेट पर 336 रन बना लिए हैं. दिन का खेल खत्म होने पर अश्विन पांच रन बनाकर नाबाद थे. मैच में पदार्पण कर रहे रजत पाटीदार से जब दिन के खेल के बाद मीडिया ब्रीफिंग में अंपायर के साथ अश्विन की बातचीत के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उन्हें इसके बारे में कुछ नहीं पता. पारी में 72 गेंद में 32 रन बनाने वाले पाटीदार ने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि क्या बातचीत हुई.’

 

 

यशस्वी जयसवाल ने शतक लगाया

बता दें कि यशस्वी जयसवाल की नाबाद 179 रनों की पारी की मदद से भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के पहले दिन छह विकेट पर 336 रन बनाए. यशस्वी जयसवाल (257 गेंद) ने अपनी मजबूत शुरुआत को बड़े शतक में बदल दिया और निकट भविष्य के लिए शीर्ष क्रम में अपनी जगह पक्की कर ली। वहीं, अन्य भारतीय खिलाड़ी अनुकूल बल्लेबाजी परिस्थितियों का फायदा नहीं उठा सके. 22 वर्षीय बाएं हाथ के बल्लेबाज जयसवाल ने सुबह 89 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया और फिर 62 गेंदों में अपना दूसरा टेस्ट शतक बनाया. इसके साथ ही उनके नाम 10वीं टेस्ट पारी में दो शतक और एक और अर्धशतक है. पिछले साल कैरेबियाई धरती पर अपने टेस्ट डेब्यू में जयसवाल ने 171 रन बनाए थे।

भारतीय टीम की नजर 500 रन पर है

यशस्वी जयसवाल ने अब तक अपनी पारी में 17 चौके और 5 छक्के लगाए हैं. स्टंप्स तक आर अश्विन पांच रन बनाकर दूसरे छोर पर उनका साथ दे रहे थे। भारत ने आखिरी सत्र में तीन विकेट खोकर अक्षर पटेल (51 गेंदों पर 27 रन) और केएस भरत (23 गेंदों पर 17 रन) की मदद से 111 रन जोड़े. इंग्लैंड की ओर से डेब्यूटेंट शोएब बशीर और रेहान अहमद ने दो-दो विकेट लिए। पदार्पण कर रहे रजत पाटीदार (72 गेंदों पर 32) ने लेग स्पिनर रेहान अहमद की गेंद का बचाव करने की कोशिश की लेकिन बोल्ड हो गए। पांच मैचों की श्रृंखला में 0-1 से पीछे चल रही भारतीय टीम दूसरे दिन कम से कम 500 रन तक पहुंचना चाहेगी ताकि ‘परिवर्तनीय’ उछाल वाली पिच पर इंग्लैंड के बल्लेबाजों पर दबाव बनाया जा सके।