Arvind Kejriwal in Punjab: पंजाब में वन नेशन वन एजुकेशन की शुरुआत! अरविंद केजरीवाल बोले- किसी भी पार्टी ने कभी…

पंजाब में अरविंद केजरीवाल: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब स्कूल ऑफ एमिनेंस शुरू करने पर सीएम भगवंत मान को बधाई दी है. इसके बाद जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि हमारा मानना ​​है कि देश में सभी को समान शिक्षा मिलनी चाहिए, यह सभी का अधिकार है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मुझे खुशी है कि भगवंत मान की पंजाब सरकार ने दिल्ली के बाद पंजाब में भी शिक्षा क्रांति की शुरुआत की है. दिल्ली की तर्ज पर पंजाब में भी शिक्षा क्रांति आएगी।

‘आजादी के 75 साल बाद भी किसी पार्टी ने नहीं पूछा’

आजादी के 75 साल बाद भी आज तक किसी पार्टी या सरकार ने आकर स्कूल और अस्पताल बनाने के लिए वोट नहीं मांगा। आम आदमी पार्टी के अस्तित्व में आने के बाद भी उन्होंने यह बात नहीं कही . उनके इरादे ख़राब हैं. इस बीच उन्होंने लोगों से वन नेशन वन इलेक्शन का समर्थन न करने की भी अपील की.

केजरीवाल ने कहा कि एक देश एक चुनाव की इजाजत कभी नहीं दी जानी चाहिए. वे देश को बर्बाद कर देंगे. नेता चुनाव से डरते हैं, वो इन चुनावों को ख़त्म करना चाहते हैं. जब कोई नेता वोट मांगने आता है तो चार बातें कहकर चला जाता है. वन नेशन वन इलेक्शन दुनिया भर में साढ़े चार साल तक घूमेगा और छह महीने तक आकार लेगा।

 

हर 15 दिन में नए स्कूल तैयार होंगे

इस दौरान सीएम भगवंत मान ने कहा कि चुनाव से पहले सबसे बड़ी गारंटी शिक्षा की दी गई थी. हमने यह गारंटी पूरी की है.’ पहला स्कूल बनकर तैयार है. अब सरकारी स्कूलों में दाखिले शुरू होंगे। पंजाब के लिए यह असंभव लग रहा था, लेकिन सभी ने कड़ी मेहनत की और हमारा पहला एमिनेंस स्कूल तैयार हो गया।

यहां अभिभावकों ने अपने बच्चों को निजी स्कूलों से निकालकर दाखिला दिलाया है। ऐसा अभिभावकों का मानना ​​है. अब हमने 20-20 किलोमीटर का ट्रैफिक शुरू कर दिया है. परिवहन की कमी के कारण माता-पिता ने भी होनहार बच्चों को निकाल दिया। पंजाब के लोग सम्मान की दृष्टि से देखते थे. हम एक राष्ट्र और एक शिक्षा की बात करते हैं।

जैसे अमीरों के बच्चों को शिक्षा मिलती है, वैसे ही गरीबों के बच्चों को भी शिक्षा मिलने लगेगी। अब हर 15 दिन में स्कूल तैयार किए जाएंगे और उनमें आधुनिक सुविधाएं भी मुहैया कराई जाएंगी।