कांग्रेस पर बरसे अनुराग ठाकुर, कहा-मोहब्बत की दुकान में बेच रही नफ़रत का सामान

धर्मशाला, 03 फरवरी (हि.स.)। केंद्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने एक बार फिर कांग्रेस को निशाने पर लिया है। उन्होंने कांग्रेस पर प्रहार करते हुए कहा कि कांग्रेस अपने सहयोगी दलों के साथ ही न्याय करने में असमर्थ है और इनके मोहब्बत की दुकान में सिर्फ नफरत नजर आती है। आज एक-एक करके इनके साथी इनको छोड़ रहे हैं।

अनुराग सिंह ठाकुर शनिवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के धर्मशाला आगमन पर आयोजित अभिनन्दन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि मोहब्बत की दुकान में नफरत का सामान बेचा जा रहा है। यही कारण है कि पहले नीतीश कुमार अलग हुए और अब ममता बनर्जी भी अलग होने जा रही हैं और कह रही हैं कि कांग्रेस को 40 सीटें भी नहीं मिलेंगी। ममता कह रही हैं कि पश्चिम बंगाल में तो कांग्रेस का खाता भी नहीं खुलेगा।

अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि डीके सुरेश और दक्षिण भारत के अन्य बड़े कांग्रेसी नेताओं के हाल के बयान दिखाते हैं कि राहुल गांधी, सोनिया गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे ने अपने लोगों को देश में नफरत फैलाने की खुली छूट दे रखी है। इंडी गठबंधन के नेता और कांग्रेस के सांसद देश को क्षेत्र और जाति के नाम पर बांटना चाहते हैं। लेकिन देश की जनता इन्हें करारा जवाब देगी। भाजपा ने देश को कांग्रेस के लूट से बचाया है और अब इनकी विभाजनकारी राजनीति से भी बचाएगी।

उन्होंने कहा कि आज झारखंड में नए मुख्यमंत्री ने शपथ ग्रहण कर लिया है। इस पर राहुल गांधी बताएं कि अगर झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार किया गया है तो क्या भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई नहीं करनी चाहिए?

उन्होंने कहा कि 10 वर्षों के कार्यकाल में 25 करोड़ से ज्यादा गरीब गरीबी रेखा से बाहर आए हैं। देश का मान सम्मान बढ़ा है। इस दौरान 4 करोड़ जरूरतमंदों को पक्के आवास, 12 करोड़ शौचालय, 13 करोड़ नल से जल कनेक्शन, 10 करोड़ उज्जवला गैस कनेक्शन, 60 करोड लोगों को 5 लाख का स्वास्थ्य बीमा, 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को मुफ्त अनाज और 220 करोड़ मुफ्त वैक्सीन लगाए गए हैं तथा अब यह रफ्तार और तेज होगी।

उन्होंने कहा कि दो करोड़ पक्के मकान और दिए जाएंगे, आशा वर्कर्स और आंगनवाड़ी वर्कर्स को 5 लाख तक का स्वास्थ्य बीमा मिलेगा, युवाओं को रिसर्च और इनोवेशन के लिए एक लाख करोड रुपए मिलेंगे, 11 लाख 11 हजार 111 करोड रुपए भारत के आधारभूत संरचना को मजबूती देने के लिए मिलेंगे।