कर्मचारियों के लिए TCS का ऐलान…! सैलरी बढ़ोतरी और प्रमोशन के लिए कर्मचारियों के सामने रखी गईं शर्तें, तुरंत चेक करें अपडेट

टीसीएस की शर्तें: फरवरी का महीना शुरू होते ही दफ्तरों में कर्मचारियों और एचआर टीम के बीच सैलरी बढ़ोतरी और प्रमोशन को लेकर चर्चाएं तेज हो जाती हैं। इस बीच देश की दिग्गज टेक कंपनी टाटा कंसल्टेंसी ने भी कर्मचारियों के सामने वेतन वृद्धि और प्रमोशन के लिए एक शर्त रखी है। टीसीएस ने हाल ही में एक ऐसा कदम उठाया है, जो भले ही छंटनी न हो, लेकिन इसका असर जॉब मार्केट पर पड़ सकता है। आइए जानते हैं टीसीएस ने कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाने के लिए क्या शर्त रखी है।

अगर आप शर्त मानेंगे तभी आपको वेतन बढ़ोतरी मिलेगी.

भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टाटा ग्रुप की आईटी कंपनी टीसीएस पिछले कुछ समय से अपने कर्मचारियों को ऑफिस बुलाने की कोशिश कर रही है। टीसीएस इसके लिए पहले ही कई कदम उठा चुकी है. अब कंपनी का ताजा कदम हैरान करने वाला है. कंपनी ने कर्मचारियों की ऑफिस वापसी को उनके वेतन में बढ़ोतरी और पदों पर प्रमोशन से जोड़ दिया है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी ने अपनी रिटर्न-टू-ऑफिस पॉलिसी कड़ी कर दी है। अब इस पॉलिसी के साथ वेरिएबल पे को जोड़ दिया गया है. पदोन्नति कार्यालय वापसी नीति से भी जुड़ी हुई है। इसका मतलब यह है कि आने वाले दिनों में टीसीएस कर्मचारियों की सैलरी में कितनी बढ़ोतरी होगी या उनका प्रमोशन कैसे होगा, यह सब उनकी ऑफिस वापसी पर निर्भर करेगा।

नीति सभी पर लागू होगी

कंपनी ने यह स्पष्ट कर दिया है कि उसकी नई रिटर्न-टू-ऑफिस नीति न केवल पुराने कर्मचारियों बल्कि नए कर्मचारियों पर भी लागू है। रिटर्न-टू-ऑफिस नीति उन नए छात्रों पर भी लागू होगी जिन्होंने अपना निर्धारित पाठ्यक्रम पूरा कर लिया है और अब 3 लाख रुपये के मानक वार्षिक मुआवजे से अधिक भुगतान प्राप्त करने के पात्र हैं।

सप्ताह में 5 दिन कार्यालय आवश्यक

दरअसल, कोरोना महामारी के दौरान कंपनी ने अपने कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम की छूट दी थी. जिसके बाद बहुत कम कर्मचारी ऑफिस आकर काम कर रहे हैं. कंपनी ने उनसे कई बार ऑफिस आकर काम करने को कहा लेकिन कर्मचारी नहीं माने। जिसके बाद टीसीएस ने अपनी पॉलिसी में बदलाव करते हुए अब अपने कर्मचारियों के लिए हफ्ते में पांच दिन ऑफिस आना अनिवार्य कर दिया है. इसका मतलब यह है कि टीसीएस ने अब वर्क फ्रॉम होम पॉलिसी को पूरी तरह से बंद कर दिया है।